Category Archives: Religion

सदर व्यापार मंडल का विवाद निपटाने को संघ ने दिया दखल –

मेरठ : सदर व्यापार मंडल में व्यापारियों के बीच चल रहे विवाद को निपटाने के लिए संयुक्त व्यापार संघ ने दखल दे दिया है। संघ अध्यक्ष नवीन गुप्ता ने कहा कि दोनों के बीच आपसी सहमति बनायी जा रही है। वहीं आपसी विवाद के कारण नहीं खुल पा रहे मंदिर की गुल्लक को खोला गया। इसमें डेढ़ लाख रुपये से अधिक के रुपये मिले।
सदर में व्यापारियों के बीच आपसी कलह चल रही है। इसमें सुनील दुआ जहां स्वयं को अभी भी अध्यक्ष कह रहे हैं तो वहीं बीते दिनों विनोद जायसवाल ने चुनाव कराकर खुद को अध्यक्ष घोषित कर दिया। बीते दिनों शिव चौक पर मंदिर की गुल्लक खोलने को लेकर दोनों गुटों में तनातनी हो गयी थी। गाली-गलौच, मारपीट के बाद दोनों गुटों की ओर से तहरीर दी गयी थी।
वहीं बुधवार को संयुक्त व्यापार संघ अध्यक्ष नवीन गुप्ता, मंत्री गौरव शर्मा तथा विकास गिरधर व लल्लू मक्कड़ संग पहुंचे। नवीन गुप्ता ने बताया कि पुराने नोट जमा करने की सीमा 30 दिसंबर है। जबकि मंदिर का गल्ला, व्यापारियों के आपसी विवाद के कारण नहीं खुल पा रहा था। दोनों गुटों से बात करके बुधवार को हनुमान मंदिर बोम्बे बाजार का गल्ला खोला गया। इसमें एक लाख 52 हजार रुपये की नकदी के अलावा करीब आठ हजार रुपये के सिक्के मिले हैं। इस धनराशि को बैंक में जमा कराया जाएगा। वहीं दोनों गुटों से बात कर सर्वसहमति बनाने का प्रयास किया जा रहा है।

मेरठ में एक दलित युवती के साथ दूसरे समुदाय के युवक ने उसके साथ शादी करने के साथ ही बिजनेस कराने का झांसा देकर रेप किया। इसके बाद निकाह कर धर्म परिवर्तन करा दिया।

मेरठ (जेएनएन)। पश्चिमी उत्तर प्रदेश की प्रमुख औद्योगिक नगरी मेरठ में एक को शादी तथा नौकरी का झांसा देकर एक युवक ने धर्म परिवर्तन करा दिया। इसके बाद दो वर्ष से वह उसके साथ दुष्कर्म करता रहा, इसके बाद भी कुछ न होने पर युवती अब पुलिस की शरण में हैं। पुलिस का मानना है कि सब युवती की मर्जी से हुआ है। अब इस मामले में पुलिस जांच के बाद ही कोई कार्रवाई करेगी।
मेरठ में एक दलित युवती के साथ दूसरे समुदाय के युवक ने उसके साथ शादी करने के साथ ही बिजनेस कराने का झांसा देकर रेप किया। इसके बाद निकाह कर धर्म परिवर्तन करा दिया। अब पीडि़त युवती ने इस मामले की शिकायत एसएसपी से की है।
हस्तिनापुर निवासी युवती की किठौर के इदरीश से दोस्ती हो गई थी। दो वर्ष पहले युवती इदरीश के साथ मेरठ के लिसाड़ीगेट के शालीमार गार्डन में रहने लगी थी। पीडि़ता ने बताया कि इदरीश अब दूसरी युवती को साथ लेकर चला गया है। घरेलू उपकरण के लिए लगाई फैक्ट्री को बेच कर रकम भी कब्जे में कर ली है। बीएड पास दलित युवती ने एसएसपी ऑफिस पर पहुंचकर आरोप लगाया है कि दो वर्ष पहले उसकी मुलाकात किठौर निवासी इदरीश से हुई थी। युवती ने बताया कि वह खुद का एक बिजनेस चलाना चाहती थी।
वहीं इदरीश ने उसे बताया कि लिसाड़ी गेट में घरेलू सामान बनाने की फैक्ट्री अच्छी चलेगी। उसने अपने परिवार के लोगों से करीब 30 लाख रुपए लेकर वहां बिजनेस शुरू कर दिया। युवती का आरोप है कि इदरीश ने बहला फुसलाकर एक दिन उसके साथ रेप किया। इसके बाद सिलसिला रोज का हो गया। करीब छह महीने पहले इदरीश ने उसका धर्म परिवर्तन कराया और उसके साथ निकाह कर लिया। इसके बाद लिसाड़ी गेट क्षेत्र के एक किराये के मकान में निकाह के दोनों रहने लगे।
करीब एक महीने के बाद इदरीश अचानक वहां से गायब हो गया। जिसके बाद उसके परिवार के लोगों का भी कोई पता नही चला है।पीड़िता ने बताया कि इदरीश अब दूसरी युवती को साथ लेकर चला गया है। घरेलू उपकरण के लिए लगाई फैक्ट्री को बेच कर रकम भी कब्जे में कर ली है।
इस मामले पर एसएसपी जे रविंद्र गौड़ का कहना है कि युवती ने इदरीश नाम के युवक पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। धर्म परिवर्तन का आरोप भी लगाया है। पुलिस मामले की जांच करने बाद कार्रवाई करेगी।

प्रेमिका के परिजनों का कहना है कि प्रेमी अगर इस्लाम धर्म कबूल कर ले तो वे दोनों का निकाह करा देंगे।

मेरठ (जेएनएन)। सात साल तक लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाली युवती और बच्चों को लेने जब युवक उसके घर पहुंचा तो परिजनों व पड़ोसियों ने मिलकर उसकी धुनाई कर दी। दरअसल, प्रेमी बहुसंख्यक, जबकि प्रेमिका अल्पसंख्यक समुदाय से हैं। ऐसे में प्रेमिका के परिजनों का कहना है कि प्रेमी अगर इस्लाम धर्म कबूल कर ले तो वे दोनों का निकाह करा देंगे। पीड़ित युवक ने एसएसपी ऑफिस में प्रार्थना-पत्र दिया तो बुधवार को लिसाड़ी गेट थाने में इसकी जांच शुरू की गई।

एक रुपया सालाना किराये में है पुलिस कप्तान का छह हजार वर्गगज का ‘मकान’

कैंटोनमेंट अस्पताल के सामने पुराना बर्फखाना निवासी मुकेश सैनी के पड़ोस में सात वर्ष पूर्व श्यामनगर निवासी फिरोज अपने पिता हरीफ के साथ रहने आई थी। दरअसल, फिरोज और इनके पिता को भाई हनीफ और भाभी ने घर से निकाल दिया था। श्यामनगर में फिरोज की नजदीकियां मुकेश सैनी से बढ़ गईं और दोनों लिव इन रिलेशनशिप में रहने लगे। दोनों को एक बेटा लकी हुआ। बता दें कि फिरोज का पहले पति से तलाक हो चुका है और उससे भी एक बेटा निक्कू है। एक माह पहले हरीफ बेटे हनीफ के पास श्यामनगर लौट गए। चार जून को उनकी मौत हुई तो फिरोज अपने दोनों बेटों के साथ श्यामनगर पहुंची।

यूपी में 50 रुपये में बिक रहे रेप के वीडियो, रोज हो रहे दस से अधिक रेप

इस दौरान मुकेश उन्हें लाने गया, तो फिरोज के परिजनों ने उस पर इस्लाम धर्म कबूल करने के दबाव बनाया। कहा, तभी तुम दोनों का निकाह हो सकेगा। इससे मुकेश ने इन्कार कर दिया तो फिरोज मुकेश के साथ नहीं आ सकी। बाद में भाई-भाभी के कहने पर उसने बड़े बेटे निक्कू को मुकेश के घर पहुंचा दिया। मुकेश जब 31 जुलाई को फिरोज और लकी को लेने के फिर श्यामनगर पहुंचा तब हनीफ और उसके पड़ोसियों ने उसकी जमकर धुनाई कर दी। साथ ही कहा कि जब धर्म परिवर्तन कर लेना तब आना। इस पर मुकेश ने एसएसपी दफ्तर में प्रार्थना-पत्र देकर कार्रवाई की गुहार लगाई। एसओ लिसाड़ी गेट रवेंद्र यादव का कहना है कि जांच कर आरोपियों पर कार्रवाई की जाएगी।

91-year-old Meerut man visits birthplace in Pakistan

MEERUT:A 91-year-old man from Meerut whose last wish was to visit Sheikhupura in Pakistan was overwhelmed with the heart-warming response he received from the people across the border.
Amid the mounting tension between the two neighbouring countries, Krishan Kumar Khanna got a Pakistani visa after a leading newspaper carried a story about him in April this year.
91-year-old Meerut man visits birthplace in Pakistan
Pakistan
Sheikhupura is the place where Khanna grew up before the Partition. He and his family members were rescued from the rioters by the Army at the time.
“I am still awestruck by the warm welcome I received in Lahore and Sheikhupura, where locals addressed me as the ‘real owner’ of the house and shops that once belonged to my family,” he was quoted in a TOI report.
“I just had to say, I am from Hindustan and their eyes would light up,” he said, adding, “People in Pakistan gave me the kind of love and respect that I had never imagined,” Khana was further quoted in the report.
“My perception about the people there has changed. All those I met had nothing against India or Indians. It is politics that has ruined everything,” he was quoted.

On the occasion of Babri Masjid demolition anniversary, both Shiv Sena and Muslim League stage protest with separate demands

Meerut: Tuesday witnessed protests from both Hindu and Muslim organisations on the occasion of Babri Mosque demolition anniversary. While the Shiv Sena demanded the construction of a Ram Temple, members of the Indian Union Muslim League (IUML) raised slogans in support of construction of mosque.
The IUML used the occasion to stage a demonstration at the District Magistrate’s (DM’s) office. “It has been many years but we are still hopeful of justice in this case. A national monument was brought down while the government stood by and watched. The Constitution of India assures equal rights to all citizens irrespective of their religious beliefs. The demolition of the Babri masjid was equivalent to contempt of the Constitution. Yet, not everybody has been brought to book”, said Mohammed Arshad of the IUML.

Get a deal for a superb Aussie holiday
Tourism Australia

Perfect gift for 2-12 year-olds
Magic Crate
Recommended By Colombia
“We have written a letter to the President of India, demanding that the Babri masjid be constructed again at the same spot, and that all those responsible for the demolition be punished”, Arshad further added.
On the other hand, the Shiv Sena also protested at the DM’s office, their reasons and demands being completely the opposite. “Babar was a foreign invader who demolished the Ram temple that stood in Ayodhya. The High Court has also accepted that it is the spot were Sri Ram was born. The government at the Centre since 2014, is a government of Ram Devotees. They should expedite the process of building the Ram temple. Acche din should also arrive for Ram Lalla”, said Dharmendra Tomar, Meerut District chief, Shiv Sena.
“It is a day for celebration, as the Babri masjid was brought down this day. We celebrate it as victory day. We took out a victory march and distributed sweets on the occasion. We have also written a letter to our Prime Minister, demanding that a grand Ram temple be built in Ayodhya honouring Sri Ram and Indian culture. His name will go down in history if he is able to do so”, Tomar said.


Warning: Illegal string offset 'update_browscap' in /home/meeruefh/public_html/wp-content/plugins/wp-statistics/includes/classes/statistics.class.php on line 157