Category Archives: Opinion

सर्वे: राष्ट्रपति पद की रेस में सबसे आगे ‘मेट्रोमैन’, सुषमा दूसरी तो आडवाणी बने तीसरी पसंद

Presidential election: Metro Man E Sreedharan As NDA’s top choice of People poll Survey
एनडीए की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी के लिए ‘मेट्रोमैन’ ई. श्रीधरन लोगों की पहली पसंद हैं। यह बात एक सर्वे में सामने आयी है।

Will black money increase in India ?

Don’t panic !! Don’t over react and buy gold at high price !! Don’t sell your 500 and 1000 notes for less. Your hard earned money will be converted and not even a single rupee will be wasted. The turbulence will soon settle down.

I feel black money will increase in our country, it’s just a transfer from one hand to another. Yes many lower middle class and middle class will make some money in this bargain. 

Government plans to earn the undisclosed 13.5 lac crore and feels that 5 lac crore will never come out and will be savings of government but it will not happen. Government will save maximum 50k crore to 1 lac crore but the question is .. is it worth ?? 

Is it worth to trouble the 1.3 billion Indian population for 1 lac people. The research shows not more than 1 lac people in our country will have high reserves of 500 and 1000 notes , so why trouble whole country. 

All the money will be converted and again kept in the same way with lower space. 

If laws are made there is a way to break it. So keep searching and don’t panic. 

Soon I will be posting on ways to save your hard earned so called black money ?

Vishal Jain

Editor 

चुपचाप अपना काम कर गए पीएम नरेंद्र माेदी और किसी को भनक तक नहीं लगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (Express Photo Prem Nath Pandey)

उरी हमलों के बाद अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा था कि इन हमलों के दोषी बख्‍शे नहीं जाएंगे।

लाइन ऑफ कंट्रोल पार कर भारतीय सेना की सर्जिकल स्‍ट्राइक का देशवासियों ने समर्थन किया है। सेना के मुताबिक, उसने बुधवार रात को एलओसी पार कर पीओके में स्थित आतंकियों पर धावा बोला। हमले में कई आतंकी मारे गए और भारतीय सेना को कोई नुकसान नहीं हुआ। अंतर्राष्‍ट्रीय मंच पर पाकिस्‍तान को अलग-थलग करने की कोशिशों के बीच सैन्‍य कार्रवाई ने उन आवाजों को भी शांत करा दिया है जो केन्‍द्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर नरमी का आराेप लगा रही थीं। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 18 सितंबर को उरी में आर्मी कैंप पर हुए हमले के करीब आठ घंटे बाद ट्वीट किया था। तब उन्‍होंने कायराना हमले की निंदा करते हुए देश को भरोसा दिलाया था कि इस हमले को अंजाम देने वालों को इसकी सजा जरूर दी जाएगी। इसके बाद, कुछ दिनों तक मोदी ने वरिष्‍ठ मंत्रियों और सेना के अधिकारियों के साथ लगातार बैठकें कीं। जिसमें इसी बात पर चर्चा हुई कि पाकिस्‍तानी धरती पर पल रहे आतंकवाद से कैसे निपटा जाए। तब खबर आई थी कि प्रधानमंत्री हमले के बाद काफी गुस्‍से में हैं, मगर उन्‍होंने सार्वजनिक मंचों से इसे लेकर ज्‍यादा कुछ नहीं कहा। मोदी ने रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर को भी स्‍पष्‍ट निर्देश दिए थे कि वे गोवा छोड़कर सीमा पर ध्‍यान दें।

25 सितंबर को जब मोदी ‘मन की बात’ में देशवासियों से मुखातिब हुए, तब तक देश में पाकिस्‍तान के खिलाफ सैन्‍य कार्रवाई करने की मांग जोर पकड़ चुकी थी। सवाल उठने लगे थे कि आखिर मोदी 2014 से पहले 1 जवान के बदले 10 का सिर लाने की बात किया करते थे, अब सत्‍ता में आने के बाद वे चुप क्‍यों हैं। ‘मन की बात’ में मोदी ने साफ कर दिया कि ‘सेना बोलती नहीं है, सेना पराक्रम करती है। हमें भारतीय सेना पर पूरा भरोसा है और उन पर गर्व है।’ शायद यह एक इशारा था कि उनके दिमाग में क्‍या चल रहा है। इसके बाद ही पाकिस्‍तान को किनारे करने का असली काम शुरू हुआ। संयुक्‍त राष्‍ट्र में विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने भारत का पक्ष मजबूती से रखा तो एक जूनियर अफसर ने पाकिस्‍तानी पीएम नवाज शरीफ के दावों को खोखला साबित किया। प्रधानमंत्री तब भी चुप रहे और सवाल उठते रहे।

Indus Waters treaty, narendra modi, india pakistan water treaty, kashmir, water resource ministry, pm modiप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल फोटो)मोदी सरकार को बड़ी कामयाबी तब मिली जब इस्‍लामाबाद में होने वाले से सार्क सम्‍मेलन से भारत के कदम खींचने के बाद बांग्‍लादेश, भूटान और अफगानिस्‍तान ने भी वहां जाने से मना कर दिया। इससे अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर पर पाकिस्‍तान की खासी किरकिरी हुई। दो दिन तक दबाव बनाने के बाद बुधवार रात को सेना की सर्जिकल स्‍ट्राइक ने पाकिस्‍तान समेत उन अालोचकों को भी स्‍तब्‍ध कर दिया जो मोदी के ’56 इंच के सीने’ वाले दावे का मजाक उड़ाने लगे थे।

Narendra Modi, Uri Attack, Pakistan, India Pakistan War, Indian Army, Uri terror Attack, Army War, Modi's Options, Gen VK Singh, Terror Camps in Pakistan, Indo-Pak War, LoC, Kashmir War, National News, India news, Thoughts, Opinions, Jansattaप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह। (Source: PTI)इस पूरे घटनाक्रम में अहम बात यह रही कि सरकार की तरफ से लगातार यह पोजिशन बरकरार रखी गई कि भारत जवाब जरूर देगा। दूसरी तरफ, पाकिस्‍तान के रक्षा मंत्री द्वारा बार-बार परमाणु बम की धमकी दिए जाने से भी भारत का पक्ष मजबूत हुआ। पाकिस्‍तान को अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर पर बेनकाब करने के लिए जरूरी उकसावा काम आया और पिछले सप्‍ताह भर में जिस तरह के बयान सीमा पार से आए हैं, उससे यह बात साफ होती है। विदेशी मीडिया ने भी चेताया था कि पाकिस्‍तान नरेंद्र मोदी के संयम को उनकी कमजोरी न समझे।