Category Archives: Meerut

भांग के ठेकों की आड़ में चरस बेचने का आरोप लगाते संयुक्त व्यापार मंडल के सदस्य

कॉमेडी पर प्रदर्शन करते अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार के सदस्य

फिल्म पद्मावती के विरोध में संजय लीला भंसाली का पुतला फूंकते सिंह सेना के सदस्य

छात्राओ को निशुल्क यूनिफार्म वितरण कार्यक्रम में यूनिफार्म वितरण

आज दिनांक 19-01-2018 को सेठ बी0 के0 माहेष्वरी गर्ल्स इंटर कालेज सरायलालदास थाना देहलीगेट मेरठ में आज छात्राओ को निशुल्क यूनिफार्म वितरण कार्यक्रम में यूनिफार्म वितरण किया गया

थाना लिसाडी गेट छेत्र के ईसलामा बाद गोला कुवा पर बिजलि चेकिग को लेकर हगामा

कमिश्नरी सभागार में मीटिंग लेने पहुंचे मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश

छावनी की सड़कों पर बने मौत के गड्ढे

chaavni ki sarko par maut ke ghadde
फाइल फोटो – फोटो : अमर उजाला ब्यूरो
छावनी की सड़कों पर मौत के गड्ढे हो गए हैं। कुछ सड़कों को लेकर एमईएस और कैंट बोर्ड में आपसी खींचतान है। वजह जो भी लेकिन यह स्पष्ट है कि छावनी की सड़कों में गहरे गड्ढे जनता को मौत की दावत दे रहे हैं। कमिश्नरी आवास चौराहे से माल रोड जाने वाले रास्ते पर गहरे गड्ढे की शिकायत के बाद भी कैंट बोर्ड और एमईएस हाथ पर हाथ रखे बैठे हैं। इतना ही नहीं डेयरी फार्म मार्ग की स्थिति भी ऐसी ही है। सड़क के गहरे गड्ढे स्मार्ट कैंट की पोल खोलते नजर आ रहे हैं।  ऊपर स्वागत बोर्ड, नीचे गड्ढा  
छावनी परिषद् ने अपने सभी मार्गों पर स्वागत द्वार लगा रखे हैं। कमिश्नरी आवास चौराहा से सटी छावनी की सड़क की जिस सड़क पर गहरा गड्ढा है, उसके ठीक ऊपर छावनी परिषद ने स्मार्ट कैंट में प्रवेश का स्वागत द्वार लगाया हुआ है। चौराहे से यह मार्ग माल रोड की तरफ निकलता है। दिन भर इस मार्ग से सैकड़ों वाहन गुजरते हैं। चौराहे से छावनी की सड़क पर चढ़ने से पहले सभी वाहनों को गहरे गड्ढे से गुजरना पड़ता है। चौराहे पर तैनात ट्रैफिक पुलिस के अनुसार गड्ढे में गिरकर कई दोपहिया वाहन सवार घायल हो चुके हैं। इसके अलावा मवाना रोड स्थित डेयरी फार्म रोड भी गड्ढाें में तब्दील है। जहां पर टोल के ठेकेदारों ने पेड़ के तने डालकर बैरियर बनाया था, वहीं पर सड़क किनारे गहरे गड्ढे हैं। जिसमें कभी भी किसी की जान जा सकती है।

कैंट बोर्ड को चिढ़ा रहा निगम का चौराहा 
मेरठ। नगर निगम ने कमिश्नरी आवास चौराहा का सौंदर्यीकरण किया है। इस चौराहे को सबसे सुंदर चौराहों में गिना जाता है। हालांकि कैंट बोर्ड के चौराहे भी कम सुंदर नहीं हैं। लेकिन निगम का यह चौराहा छावनी की सड़क में गड्ढा होने के कारण कैंट बोर्ड को चिढ़ा रहा है। स्मार्ट कैंट के दावे पर सड़क का यह गड्ढा प्रश्न चिह्न लगा रहा है।

कोहरे और पाले की मार, हो रहा बुराहाल

kohre aur paale ki maar
फाइल फोटो – फोटो : अमर उजाला ब्यूरो
वेस्ट यूपी और एनसीआर क्षेत्र में कोहरे व पाले के कहर से जनजीवन प्रभावित हो रहा है। दिन का पारा गिरता जा रहा है और रात में पाला सर्दी को बढ़ा रहा है। शुक्रवार को धूप से लोगों को थोड़ी राहत जरूर मिली, लेकिन शाम होती सर्दी बढ़ गई। मौसम वैज्ञानिकों ने 72 घंटे तक मौसम ऐसे ही बने रहने की संभावना जताई है। नए साल में मौसम के भी तेवर बदले हुए है। ठंड का रौद्र रूप ऐसे बढ़ा कि वेस्ट यूपी में बृहस्पतिवार को पिछले छह सालों में सबसे कम तापमान दर्ज किया गया। शाम को जल्दी ही सूरज छिप गया। हाड़ कंपा देने वाली और गलन वाली सर्दी से अभी राहत के आसार नहीं दिख रहे है। वहीं कोहरे के कारण वाहन रेेंगते नजर आए। बृहस्पतिवार रात आठ बजे के बाद से कोहरे ने शहर से लेकर देहात तक को अपनी चपेट में ले लिया और शुक्रवार सुबह भी काफी परेशानी हुई। करीब 11 बजे धूप निकलने पर कोहरा हटने पर लोगों ने राहत की सांस ली। शुक्रवार को मौसम कार्यालय पर दिन का अधिकतम तापमान 15.0 डिग्री और रात का न्यूनतम तापमान 5.0 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। अधिकतम आर्द्रता 97 और न्यूनतम 73 प्रतिशत दर्ज की गई। एक दिन पहले की अपेक्षा दिन के तापमान में 4 डिग्री और रात के तापमान में एक डिग्री की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई।

वाहन चालक बरतें सावधानी
कोहरे के कारण वाहन सड़कों पर रेंगते नजर आ रहे हैं। कोहरे में हादसे का डर बना रहता है। इसलिए चालकों को अतिरिक्त सावधानी की जरूरत है।  कोहरे के दौरान वाहन चालकों को वाहन के म्यूजिक सिस्टम को बंद कर देना चाहिए ताकि आसपास से गुजरने वाले वाहनों की आवाज आसानी से सुन सकें। अपने वाहनों की हेड लाइट लो बीम पर रखनी चाहिए ताकि सड़क पर देखा जा सके। वाहनों की पार्किंग लाइट जलाकर चलना चाहिए ताकि पीछे आ रहे दूसरे वाहन चालकों को आपके वाहन के बारे में जानकारी हो सके। आगे चल रहे वाहन से सामान्य से अधिक दूरी बनाकर रखें।

वेस्ट यूपी में कोहरे का असर अभी 72 घंटे तक रहेगा। रात में पड़ रहा पाला भी सर्दी को बढ़ाने का काम कर रहा है। आने वाले दिनों में शीतलहर की गति बढ़ने से मौसम बदल सकता है। शीतलहर चलने पर सर्दी में और इजाफा होगा। -डॉ. यूपी शाही, मौसम वैज्ञानिक कृषि विवि

कोहरा बना काल : दर्दनाक हादसे में दो युवाओं की मौत, मचा कोहराम

Fog made time! two youths die in a painful accident
दर्दनाक हादसे में दो युवाओं की मौतPC: अमर उजाला
यूपी के मेरठ जिले में कमिश्नर आवास से करीब 300 मीटर दूर मवाना रोड पर बृहस्पतिवार आधी रात घने कोहरे में दर्दनाक हादसा हो गया। एक बाइक डिवाइडर से टकरा गई। बाइक पर सवार दोनों युवकों ने समय पर इलाज न मिलने पर तड़पकर दम तोड़ दिया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस शवों की पहचान करने में जुटी थी।

पुलिस के अनुसार दोनों युवक बाइक से मेरठ से मवाना रोड की तरफ जा रहे थे। कमिश्नर आवास से कुछ दूरी पर बाइक डिवाइडर से जा टकराई और दोनों युवक लहूलुहान हालत में सड़क पर गिर गए। लेकिन वहां से गुजरने वाले लोगों ने इन घायल युवकों की मदद करना तो दूर, पुलिस को सूचना देना भी मुनासिब नहीं समझा। करीब एक घंटे तक दोनों युवक तड़पते रहे। उनके बराबर से वाहन गुजरते रहे। उनकी बाइक 50 मीटर दूर सड़क पर ही पड़ी थी।

अमर उजाला के रिपोर्टर ने दी सूचना
रात करीब 1:20 बजे अमर उजाला का एक रिपोर्टर वहां से गुजरा। उसने इस हादसे की सूचना तुरंत यूपी 100 और लालकुर्ती पुलिस को दी। घटनास्थल पर दो थानों की सीमा पड़ती है। दोनों थाने की पुलिस सीमा विवाद में उलझ गई। सूचना के करीब 25 मिनट बाद पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने दोनों युवकों को पहले जिला अस्पताल भेजा। जहां पर डॉक्टरों ने उनको मृत बताया। जिसके बाद दोनों शव पोस्टमार्टम हाउस पर भेज दिए। पुलिस ने युवकों की बाइक से उनकी पहचान करने का प्रयास किया। देर रात तक दोनों युवकों की पहचान नहीं हो सकी।

मोबाइल पर लॉक लगा है

हाईवे पर हादसाPC: अमर उजाला

दोनों युवकों के पास स्मार्ट फोन था। लेकिन दोनों में लॉक लगा है। पुलिस ने लॉक खोलने का कई बार प्रयास किया। लेकिन सफलता नहीं मिली। पुलिस को इंतजार था कि काश किसी एक फोन पर किसी की कॉल आ जाए। लेकिन दोनों फोन पर कोई कॉल तक नहीं आई। युवकों की बाइक यामाहा एफ जेड है। जिस पर यूपी 15 एजेड 6003 नंबर पड़ा है। जो कि किसी आदित्य आर्या के नाम से है। बाइक पर पीछे आर्या भी लिखा है।

घना कोहरा, हाई स्पीड, हेलमेट भी नहीं
जिस तरह से घने कोहरे में हादसा हुआ, उससे अनुमान लगाया जा रहा है कि बाइक काफी स्पीड पर थी। दोनों युवकों ने हेलमेट भी नहीं लगाया हुआ था। डिवाइडर से बाइक टकराने के बाद सड़क पर गिरी। बाइक का अगला हिस्सा पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। अंदेशा है कि कोहरे में युवकों को रास्ता नहीं सूझा होगा और उनकी बाइक डिवाइडर से टकरा गई होगी।

देर रात जाम भी लगा 
पुलिस के पहुंचने से पहले दोनों युवकों के बराबर से वाहन गुजर रहे थे। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पहले शव उठाने तक रूट वन-वे किया। इस दौरान मवाना रोड पर वाहनों की लंबी लाइन लग गई। करीब आधे घंटे बाद यातायात सुचारु हुआ।

शास्त्रीनगर में लूट के बाद महिला की हत्या की कोशिश

shastrinagar me loot ke baad mahila ki hatya ki koshish
फाइल फोटोPC: अमर उजाला ब्यूरो
 नौचंदी क्षेत्र के शास्त्रीनगर सेक्टर-3 में सोमवार शाम घर में घुसकर एक बदमाश ने महिला की हत्या की कोशिश की और लाखों की ज्वैलरी लूटकर फरार हो गया। वृद्ध महिला घर में अकेली रहती है। महिला के मूंह से खून आता देखकर बदमाश उन्हें मृत समझकर फरार हो गया। घंटों बाद महिला को होश आया तो वह चिल्लाते हुए बाहर निकली और शोर मचा दिया। घटना के बाद सीओ सिविल लाइन मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। पुलिस महिला को अस्पताल लेकर पहुंची।
शास्त्रीनगर सेक्टर- निवासी उमा अग्रवाल (58) अपने घर में अकेली रहती हैं। उनके पति विनोद अग्रवाल की बीस दिन पहले 27 नवंबर को बीमारी के चलते मौत हो गई थी। उमा अग्रवाल ने बताया कि उनके घर में डेढ़ साल पहले एक किराएदार अमरदीप अपनी प्रेमिका के साथ रहता था। एक माह पहले वह मकान छोड़कर चला गया। सोमवार शाम को उमा घर में थी, इस बीच आरोपी अमरदीप पहुंचा और उमा से कहा कि मुझे पता चला कि बाबूजी की मौत हो गई, सोचा था कि घर पहुंचकर हालचाल जान लूं। उमा उसे कमरे में बैठाकर रसोई में चाय बनाने चली गयी।
जैसे ही वह चाय बनाकर लायी तो अमरदीप ने दरवाजा बंद कर दिया और मोबाइल फोन की चार्जिंग वायर से उमा का गला घाेंटने की कोशिश की। उमा ने विरोध किया तो अमरदीप ने उसे धक्का मारकर जमीन पर गिरा दिया। उमा चिल्लाई, लेकिन दरवाजा बंद होने के कारण किसी को आवाज नहीं आयी। जमीन पर गिरने के कारण उमा बेहोश हो गयी और उनके मुंह से खून आने लगा। आरोपी उनको मृत समझकर कानों के कुंडल, अलमारी में रखा पर्स और लाखों रुपये की ज्वैलरी लूट कर फरार हो गया। काफी देर बाद जब उमा को होश आया तो वे किसी तरह दरवाजे पर पहुंची और शोर मचाया। लोगों ने एकत्र होकर लूट की सूचना पुलिस को दी। सीओ सिविल लाइन चक्रपाणि त्रिपाठी, इंस्पेक्टर नौचंदी मनोज मिश्रा मौके पर पहुंचे। पुलिस पहले मामले को दबाने में लगी रही। बाद में भाजपाई पहुंचे तो पुलिस ने पीड़िता को अस्पताल भेजा। सीओ सिविल लाइन ने बताया कि आरोपी अमरदीप के खिलाफ मारपीट, लूट की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया है।भाजपाइयों ने घेरा थाना
लूट की सूचना पर भाजपा नेता नरेंद्र राष्ट्रवारी, संजीव अग्रवाल, पंकज कतीरा, संजीव पुंडीर, बिरेंद्र शर्मा और अन्य भाजपाई मौके पर पहुंचे और हंगामा कर दिया। बाद में भाजपाई थाने पहुंचे। पुलिस ने किसी तरह भाजपाईयों को समझा कर शांत कराया।

मैं बच गई
पुलिस के सामने बिलखते हुए उमा अग्रवाल ने बताया बस पता नहीं क्या हुआ। बस उनकी जान बच ही गयी। वह अकेली क्या करती। सीओ ने बताया कि आरोपी अमरदीप शास्त्रीनगर में कई मकानों में लंबे समय तक किराए पर रहा है, जो प्रेमिका को पत्नी बताता था। लेकिन किसी ने भी आरोपी का वेरीफिकेशन नहीं कराया। यह भी नहीं पता कि कहां का रहने वाला है। रात में पुलिस ने कई मकानों में आरोपी की तलाश की। एक मोबाइल नंबर के आधार पर पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

अपराध का अड्डा बना शास्त्रीनगर
शास्त्रीनगर अपराध का अड्डा बनता जा रहा है। चार दिन पहले पीवीएस के पास बदमाशों ने दंपति से मोबाइल लूट लिया था। विरोध पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। जिसमें एक ऑटो चालक के कंधे में गोली लग गई थी। पांच दिन पहले भी शास्त्रीनगर में दो मोबाइल लूट थे।


Warning: Illegal string offset 'update_browscap' in /home/meeruefh/public_html/wp-content/plugins/wp-statistics/includes/classes/statistics.class.php on line 157