Category Archives: Hindi

जानिए किस कुख्यात का था मवाना के जंगल में मिला शव

मेरठ : मवाना में रविवार की दोपहर बरामद हुआ अज्ञात शव हस्तिनापुर के कुख्यात विनीत का निकला। शव के पास बरामद बाइक भी लूट की निकली। पुलिस का अनुमान है कि शायद बंटवारे के विवाद में साथियों ने ही विनीत की हत्या कर दी। फिलहाल पुलिस मामले की जांच मेें जुटी है।
गौरतलब है कि रविवार की शाम जझेड़ी के जंगल में एक अज्ञात शव बरामद हुआ था। लगभग 25 वर्षीय युवक को एक गोली सिर में और दूसरी सीने से सटाकर मारी गई थी। उसका भेजा बाहर बिखरा हुआ था। मृतक के गले में शेरावाली मां का लाॅकेट और एक हाथ पर ऊं और एमके मावी व वीके मावी लिखा हुआ था। शिनाख्त न होने पर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। पुलिस के अनुसार शव के पास से बरामद हुए बाइक में मिली आरसी से उसकी शिनाख्त का प्रयास किया गया तो वह बाइक मुजफ्फरनगर से लूटी हुई निकली। वहीं पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे परिजनों ने मृतक की शिनाख्त हस्तिनापुर निवासी विनीत के रूप में की। पुलिस ने छानबीन की तो जानकारी मिली कि विनीत के खिलाफ विभिन्न थानों में संगीन धाराओं में आठ मुकदमे कायम हैं। विनीत को शातिर लुटेरा बताया जा रहा है। पुलिस का अनुमान है कि शायद किसी वारदात के दौरान लूटे गए माल के बंटवारे को लेकर विनीत का अपने साथियों से विवाद हुआ और उन्होंने उसकी हत्या कर डाली। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

6 Total Views 6 Views Today

52 प्रगणकों के खिलाफ दर्ज करायें एफआईआर : दिनेश चन्द्र

04

मेरठ : अपर जिलाधिकारी प्रशासन दिनेश चन्द्र ने कलैक्ट्रेट स्थित बचत भवन में नगर निकायों में पिछड़ी जाति के रैपिड सर्वे कार्य की प्रगति की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिये कि जो भी कर्मचारी/अधिकारी सर्वे कार्य को बाधित करेगा उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने सरधना, दौराला, मवाना के ईओ द्वारा निकायों के सर्वे कार्यो में लापरवाही बरतते हुए धीमी गति से कार्य करने पर उनसे स्पष्टीकरण तलब करने के निर्देश सम्बंधित उपजिलाधिकारी को दिये। उन्होंने नगर निगम क्षेत्र के 52 प्रगणकों को रैपिड सर्वे कार्य से अनुपस्थित रहने पर उनके विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिये। अपर जिलाधिकारी प्रशासन ने बैठक में उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया कि नगर निकायों में पिछड़ी जाति के रैपिड सर्वे के कार्य को अन्तिम दो दिनों में तीव्रता के साथ सम्पन्न कराना है। उन्होंने सभी नगर निकायों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह 26 अप्रैल 2017 की सांय 04 बजे तक सभी सर्वे सम्बंधी सभी जानकारी निर्धारित प्रारूपों में उपलब्ध करायें। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि इस कार्य के लिये जिस जिस अधिकारी/कर्मचारी को जो दायित्व सौंपे गये है वह उसका ईमानदारी एवं दृढता से निर्वहन करें। उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी द्वारा नगर निगम क्षेत्र के सर्वे कार्य में अनुपस्थित 52 प्रगणकों के विरूद्ध कोई कार्यवाही न करने तथा प्राप्त आपत्तियों के जवाब न देने पर नगर आयुक्त के प्रति नाराजगी व्यक्त की है।

अपर जिलाधिकारी ने बताया कि लोनिवि के 06, गंगनहर सिंचाई विभाग के 03, बाल विकास परियोजना का 09, एमडीए के 26, चीनी आयुक्त के 06, जिला विकास अधिकारी कार्यालय के 01, उ0 प्र0 पुलिस 01, गैरहाजिर चल रहे हैं जिनके विरूद्ध नगर निगम को एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिये है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि यह सर्वे 27 अप्रैल 2017 तक अवश्य पूर्ण किया जाएगा तथा जिसका वार्डवार अनन्तिम प्रकाशन कराया जाएगा। उन्होंने बताया कि रैपिड सर्वे कार्य को तीव्रता से सम्पन्न कराने के लिये नगर निगम, नगर पालिकाओं व नगर पंचायतों में कुल 1011 प्रगणक तथा 130 सुपरवाइजरों को तैनात किया गया है जो डोर टू डोर सर्वे करेंगे। उन्होंने बताया के नगर निगम में प्राप्त आपित्तयों की सुनवाई अपर जिलाधिकारी वित्त द्वारा 26 अप्रैल को की जाएगी। अपर जिलाधिकारी प्रशासन ने बताया कि आगामी नगर निकाय निर्वाचन 2017 की तैयारियों हेतु मा0 राज्य निर्वाचन आयुक्त द्वारा दिनांक 25 अप्रैल 2017 को पूर्वान्ह 11 बजे से वीडियो कान्फ्रेन्सिग करेंगे जिसमें परिसीमन की स्थिति, सर्वे की प्रगति व श्रेणीवार आरक्षण की तैयारियों की समीक्षा करेंगे। इस अवसर पर जिलाधिकारी एवं नगर आयुक्त व सम्बंधित अधिकारी उपस्थित रहेंगे। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी सदर अरविन्द सिंह, मवाना अरविन्द कुमार सिंह, अपर नगरआयुक्त राम भरत तिवारी, तहसीलदार सदर भगत सिंह, तहसीलदार सरधना वेद सिंह चैहान सहित समस्त नगर पालिकाओं एव नगर पंचायतों के अधिशासी अधिकारी उपस्थित रहे।

60 Total Views 60 Views Today

PM, CM और DM से लेकर आपका मोबाइल न0 भी “हैक” करना है बच्चों का खेल !!!

[embedded content]

सबसे खतरनाक एप्प

VOXOX एक ऐसा APP है जिसे आसानी से PLAY STORE या APP STORE से DOWNLOAD किया जा सकता है।
इस APP को DOWNLOAD करने के बाद जब मोबाईल मे इस APP को खोला जाता है तो इसमे एक MORE का OPTION आता है।
MORE का OPTION क्लिक करने पर एक USER का OPTION आता है।
USER के OPTION को क्लिक करने पर एक FIND ME का OPTION आता है।

FIND ME का OPTION क्लिक करने पर यूजर को अपना ही फोन नम्बर दिखायी देता है तथा इसके साथ ही एक अन्य नम्बर भी दिखायी देता है।
यूजर द्वारा उक्त लिस्ट मे से यदि अपना फोन नम्बर हटा कर अर्थात अपना नम्बर DELETE करने के बाद जो भी नम्बर अपने फोन नम्बर के स्थान पर डाला जायेगा वही नम्बर उस व्यक्ति को दिखायी देगा जिसको यूजर द्वारा फोन किया जा रहा है।

उदाहरण के लिये यूजर का फोन नम्बर 123456789 है तथा वह अपना नम्बर हटा कर 5555555555 अपने नम्बर की जगह डालता है तो जिस भी व्यक्ति को वह फोन करेगा….. उस फोन को रिसीव करने वाले यूजर को 123456789 के स्थान पर 555555555 ही दिखायी देगा।
इस प्रकार की CALL इस APP की होम स्क्रीन पर जाकर CALL के आप्शन से की जाती है।

इस APP का प्रयोग कितना घातक और खतरनाक हो सकता है इसका अन्दाजा आप भी लगा सकते है। इसके प्रयोग से अपराध किये जा सकतें है। किसी का रिश्ता टूट सकता है। किसी की जान भी जा सकती है। कोई मजाक भी करे तो डर से किसी की जान भी जा सकती है।
यह APP बहुत तेजी से वायरल हो रहा है परन्तु मजे की बात यह है कि इतने खतरनाक APP पर अभी तक कोई रोक नहीं लग पायी है।

गम्भीर बात यह है कि भारत सरकार को इस एप्प के इतने खतरनाक पहलू के बारे मे उक्त अमेरिकी कम्पनी ने बताया ही नहीं होगा तभी इस एप्प पर कोई निगरानी या रोक नहीं लग पायी है।

हमारी सरकार से यह गुजारिश है कि इस एप्प के उपरोक्त वर्णित सबसे खतरनाक पहलू पर गौर फरमायें और नागरिकों की सुरक्षा हेतु कोई न्यायोचित कदम उठाते हुए इस एप्प पर तत्काल प्रभाव से रोक लगायी जाये।
जय हिन्द । जय भारत।

12 Total Views 12 Views Today

आयकर के डिप्टी डायरेक्टर अनिल कुमार बने जॉइंट डायरेक्टर इनकम टैक्स

dr-amit

मेरठ : मेरठ में आयकर विभाग के डिप्टी डायरेक्टर डॉ0 अनिल कुमार को भारत सरकार द्वारा जॉइंट डायरेक्टर के पद पर प्रमोशन किया गया है। डॉक्टर अनिल कुमार का 2013 में डिप्टी डायरेक्टर के पद पर प्रमोशन किया गया था। डॉ0 अनिल कुमार ने मेरठ में सहायक निदेशक के पद पर जॉइन किया था और तभी से वे मेरठ से ही गाज़ियाबाद, मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर, अलीगढ़, एटा, हाथरस, कासगंज, मैनपुरी, मुज़फ्फरनगर, शामली, सहारनपुर, रूड़की, हरिद्वार, ऋषिकेश, देहरादून, श्रीनगर हल्द्वानी, रामपुर, काशीपुर, खटीमा, रुद्रपुर, कोटद्वार, नैनीताल सहित लगभग 21 जिलों के पैन, टैन, चालान, तथा रिटर्न्स, मैनपॉवर मैनेजमेंट, मैनेजमेंट इनफार्मेशन सिस्टम, आयकर सुविधा केंद्रों इत्यादि का काम बखूबी देख रहे हैं। आयकर विभाग के सभी अधिकारियों एवं कमर्चारियों तथा पेंशनर्स ने उनके प्रमोशन पर हार्दिक बधाई दी है।

31 Total Views 31 Views Today

देखिए वीडियो… हाइवे पर डायल 100 के पुलिसकर्मियों ने जापानी युवती के साथ किया ऐसा काम और खींच ली सैल्फी…

[embedded content]

मेरठ : ‘अतिथि देवो भवः’ हिंदुस्तान में यह कहावत अब किवदंती बनकर रह गई है। विदेशी मेहमानों के साथ लूट-खसोट, छेड़छाड़ और दुष्कर्म जैसी घटनाएं आम बात हो चली हैं। लेकिन जब खाकी भी अपने रसूख को ताक पर रख दे तो फिर इन मेहमानों की सुरक्षा तो भगवान भरोसे ही है। ऐसा ही एक मामला परतापुर थाना क्षेत्र में हाइवे पर हुआ। अपने भारतीय दोस्त के साथ ऋषिकेश से वापस लौट रही जापानी युवती के साथ स्कार्पियो सवार युवकों ने छेड़खानी करते हुए लूट के इरादे से कार को टक्कर मार दी। मौके पर पहुंचे डायल 100 के पुलिसकर्मियों ने विदेशी मेहमान की मदद करने के स्थान पर उसे पचड़े में न पड़ने की सलाह देते हुए मौके से टरका दिया। कार्यवाही के स्थान पर पुलिसकर्मी युवती के साथ सैल्फी लेने में जुटे रहे। पुलिस का रवैया देख उसका दोस्त उसे लेकर चला गया। इस मामले में अब कोई कार्यवाही होना संभव दिखाई नहीं देता क्योंकि युवती आज शाम की फ्लाइट से वापस लौट रही है। लेकिन विदेशी मेहमान के साथ मेरठ की क्रांतिधरा पर हुई इस शर्मनाक हरकत को युवती अपने देश में कैसे बयान करेगी यह भविष्य के गर्भ में है।

क्या है मामला
दरअसल, जापान निवासी मारिया दिल्ली निवासी अपने दोस्त के सुरेन्द्र के साथ किसी काम से ऋषिकेश गई थीं। सोमवार की शाम को उन्हें जापान वापस जाने के लिए दिल्ली से फ्लाइट पकड़नी थी, जिसके चलते वह हुंडई कार से दिल्ली वापस लौट रही थीं। इसी दौरान टोल प्लाजा पार करते ही हाइवे पर स्कार्पियो सवार युवकों ने उन पर हूटिंग शुरू कर दी। कार सवारोें ने कई बार उनकी कार को ओवरटेक करते हुए टक्कर मारने का प्रयास किया, लेकिन चालक बचाता रहा। वहीं कार सवार युवक लगातार मारिया पर छींकाकशी करते रहे। परतापुर में दीपक होटल के पास स्कार्पियो सवारों ने मारिया की कार को टक्कर मार दी। मौके पर पहुंची डायल 100 की पुलिस ने कार सवारों को दबोच लिया। आरोप है कि डायल 100 के पुलिसकर्मियों ने स्कार्पियो सवारों से सेटिंग कर ली। जब मारिया ने उन्हें बताया कि उनकी शाम की फ्लाइट है तो पुलिसकर्मियों ने आरोपी युवकों के खिलाफ कार्यवाही के स्थान पर उल्टा मारिया और उनके दोस्त सुरेन्द्र को यह कहकर डराना शुरू कर दिया कि यदि वह युवकों के खिलाफ कार्यवाही के चक्कर में लगे तो काफी पचड़े में पड़ जाएंगे। उन्होंने दोनों को सलाह दी कि यदि उन्हें समय से फ्लाइट पकड़नी है तो कानूनी पचड़े में न पड़ें और चुपचाप चले जाएं। वहीं कुछ पुलिसकर्मी कार्यवाही के स्थान पर उल्टा युवती के साथ सैल्फी लेने में जुट गए। बाद में पुलिस के दबाव में जापानी युवती बिना किसी कार्यवाही के वापस लौट गई। उल्टा डायल 100 के पुलिसकर्मियों ने उसके साथी से लिखवा लिया कि वह कोई कार्यवाही नहीं चाहते। चर्चा है कि पुलिस ने स्काॅर्पियो सवार युवकों से भी मोटी वसूली की है। वहीं इस मामले में परतापुर पुलिस ने घटना की जानकारी से ही इंकार किया है।

एनआरआई प्रोटेक्शन एक्ट के तहत होनी थी कार्यवाही
गौरतलब है कि बीते कुछ समय में विदेशी मेेहमानों के साथ हुई घटनाओं को देखते हुए विदेशों में भारत की साख कायम रखने के लिए विदेशी मेहमानों के साथ होने वाली किसी भी घटना में एनआरआई प्रोटेक्शन एक्ट के तहत कार्यवाही किए जाने का नियम है। लेकिन युवती के साथ सैल्फी लेने में मस्त पुलिसकर्मियों ने बिना किसी कायदे-कानून की परवाह किए कार सवारों को छोड़ दिया।

194 Total Views 194 Views Today

हे भगवान! अब आलू मिलेंगे 9 सौ रूपये…

patoto

मेरठ : सरकार द्वारा निर्धारित की गई आलू की कीमत का नाकाफी बताते हुए आलू किसानों ने सोमवार को कमिश्नर के नाम ज्ञापन सौंपा। उन्होंने आलू की कीमत 8 से 9 सौ रूपये किए जाने की मांग की। अजगर किसान मजदूर संगठन के बैनर तले संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा महक सिंह के साथ दर्जनों किसानों ने कमिश्नरी पर प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि सरकार ने आलू खरीद की सरकारी कीमत 487 रूपये निर्धारित की है, जबकि आलू की पैदावार में किसान की इससे कहीं अधिक रकम खर्च होती है। उन्होंने आरोप लगाया कि देश के प्रधानमंत्री किसानों से खेती की पैदावार बढ़ाने की बात कहते हैं, लेकिन न तो सरकार उचित दरों पर उनकी फसल खरीदने को तैयार है और न ही उनके लिए कोई योजना बनाई जा रही। प्रदर्शनकारियों ने आलू किसानों को लाभकारी मूल्य देने, आलू की तौल तत्काल कराने, सही समय पर आलू किसानों का भुगतान करने और आलू के सही दाम न मिलने तक उसे जायज किराए पर कोल्ड स्टोरेज में रखवाए जाने की मांग की। इस मौके पर नीरज कुमार, उर्वशी, नेपाल सिंह, सरदार सिंह, मुनेश, भीम, कुंवरपाल, आनंदपाल, सदन आदि मौजूद रहे।

48 Total Views 48 Views Today

राकेट की रफ्तार से उड़ी कार, सवारों का हुआ ये हाल…

मेरठ : कंकरखेड़ा क्षेत्र में सोमवार की सुबह राकेट की रफ्तार से विपरीत दिशा से आ रही आल्टो कार ने सामने से आ रही रिट्स कार को टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनों कारों के परखच्चे उड़ गए। हादसे में आल्टो चालक की मौत हो गई, जबकि कार सवार दूसरा युवक गंभीर रूप से घायल हुआ। वहीं रिट्स कार सवार एक ही परिवार के चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें हाॅस्पिटल में भर्ती कराया गया है।
घटना सुबह करीब सात बजे की है। मेरठ निवासी अक्षय अपने भाई की शादी में शामिल होेकर रिट्स कार से वापस लौट रहे थे। कार में अक्षय की बहन और भाई-भाभी भी सवार थे। अक्षय के अनुसार जिटौली फ्लाईओवर के निकट एक आॅल्टो कार विपरीत दिशा से रांग साइड से करीब 120 की रफ्तार से दौड़ी चली आ रही थी। आरोप है कि राकेट की रफ्तार से आ रही आॅल्टो कार उनकी कार से भिड़ गई। हादसे में दोनों कारों के परखच्चे उड़ गए। आॅल्टो कार चालक श्रवण उर्फ जयप्रकाश गिरी पुत्र श्याम गिरी निवासी मेहमदपुर रोड ज्वालापुर हरिद्वार की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं उसके साथ सवार दूसरा युवक घायल हो गया। उधर, रिट्स सवार अक्षय और उनके भाई-भाभी व बहन भी गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल भेजते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। मृतक के रिश्तेदारों ने बताया कि वह हरिद्वार की सिटी कूल ट्रैवल्स एजेंसी की गाड़ी पर चालक था और घटना के समय दिल्ली जा रहा था।

377 Total Views 377 Views Today

मीट न मिला तो आ गई भूखे मरने की नौबत…

मेरठ : जमेयतुल कुरेश मीट एसोसिएशन व एकता सेवा समिति के तत्ववधान में दर्जनों महिलाओं व पुरूषों ने मीट की दुकानें बंद कराने और लाईसेंस रिन्यु न कराने के विरोध में प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने चेतावनी दी कि अगर जल्द ही मीट की दुकानों के लाईसेंस रिन्यु नहीं किए गए तो वह आंदोलन व भूख हड़ताल के लिए बाध्य होंगे।

प्रदर्शनकारियों ने महापौर हरिकांत अहूलवालिया व नगरायुक्त के आवास पर पहुंचकर दिए ज्ञापन में बताया कि यूपी में नई सरकार आने के बाद मीट की दुकानें बंद कर दी गई है। जिससे सैकड़ों मीट की दुकान कर रहे दुकानों के घर आर्थिक परिस्थितियों का सामना करना पड़ रहा है। सभी दुकानों के संचालक लाईसेंस रिन्यु कराने के लिए बार-बार अधिकारियों से शांतिपूर्वक मांग कर रहे है, लेकिन उनके लाईंसेस रिन्यु नहीं हो रहे है, जिस कारण मीट व्यापारी भुखमरी की कगार पर आ गए है। मीट की दुकानों को बंद हुए 40 दिन हो गए है, लेकिन मीट व्यापारियों को बार-बार आश्वासन दिया जा रहा है। ऐसे में मीट व्यापारी अपने परिवार का पालन-पोषण कैसे कर सकता है। उन्होंने यह भी चेतावनी दी कि अगर जल्द ही मीट की दुकानों के लाईसेंस रिन्यु नहीं कराए गए तो वह भूख हड़ताल से भी पीछे नहीं हटेंगे। ज्ञापन देने वालों में मौ. शकील, नईम, बहबुद्दीन, जाहिद, शफीक, अफजाल, इकबाल, फुरकान आदि शामिल रहे।

2 Total Views 2 Views Today

जिम में कसरत कर रहे थे पहलवान अचानक देखा कुछ ऐसा कि मच गई भगदड़…

मेरठ : सिविल लाइन थाना क्षेत्र में सोमवार की सुबह एक जिम में आग लग गई। आग लगते ही जिम में एक्सरसाइज कर रहे युवकों में हड़कंप मच गया। आग बुझाने के उपकरणों और पानी डालकर आग बुझाई गई, लेकिन तब तक ट्रेड मिल सहित काफी सामान का नुकसान हो चुका था।
साकेत में एलआईसी कार्यालय के पीछे मोनू का ब्लू एशियन जिम है। मोनू के अनुसार, सोमवार की सुबह एकाएक जिम में आग लग गई। आग को देखते ही जिम में एक्सरसाइज कर रहे युवकों मेें हड़कंप मच गया। इसी बीच कुछ युवकों ने हिम्मत दिखाते हुए जिम में रखे आग बुझाने के उपकरणों और बाल्टियों में पानी भरकर आग बुझानी शुरू की। कुछ ही देर में आग बुझा दी गई, लेकिन तब तक जिम में रखी ट्रेड मिल मशीन और पर्दे व अन्य काफी सामान खाक हो गया। जिम संचालक मोनू ने बताया कि जिम के नीचे स्थित रेस्टोरेंट में रविवार की रात पार्टी थी। अनुमान है कि संभवतः पार्टी में हुई आतिशबाजी में देर रात कोई पटाखा जिम में गिर गया जो रात भर सुलगता रहा और सुबह आग लग गई।

724 Total Views 723 Views Today

परिवार सहित आईजी से मिली पूर्व जिला पंचायत अध्यक्षा, मांगी सुरक्षा

01

मेरठ : जिला पंचायत की पूर्व अध्यक्षा सीमा प्रधान सोमवार को अपने पूरे परिवार के साथ आईजी अजय आनंद से मिलीं। उन्होंने अपने परिवार की जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा की मांग की।
बताते चलें कि जिला पंचायत की राजनीति में चल रही कई दिनों की उठापटक के बाद जिला पंचायत अध्यक्ष सीमा प्रधान ने बीते दिनों अपना इस्तीफा दे दिया था। रविवार को शासन ने उनका इस्तीफा मंजूर करते हुए जिलाधिकारी को जिला पंचायत अध्यक्ष का कार्य देखने के निर्देश दिए हैं। इसी के साथ जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए चुनाव कराए जाने के निर्देश भी दिए गए हैं। उधर, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष सीमा प्रधान के घर पर दो बार डाक से भेजे गए पत्र में उन्हें व उनके अतुल प्रधान को जान से मारने की धमकी दी गई है। जिसकी शिकायत वह जिलाधिकारी और एसएसपी से कर चुकी हैं। सोमवार को आईजी अजय आनंद मिलने पहुंचे अतुल प्रधान और सीमा प्रधान के साथ कई सपाई भी मौजूद रहे। उन्होंने बताया कि अतुल के माता-पिता की भी हत्या कर दी गई थी। अपने पूरे परिवार की जिम्मेदारी अतुल पर है। सपाइयों ने आरोप लगाया कि प्रदेश में भाजपा की सत्ता आते ही सपाइयों का उत्पीड़न शुरू हो गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि अतुल को लगातार मिल रही धमकियों के बावजूद उनकी वाई श्रेणी की सुरक्षा हटाना शासन की मंशा को संदेहास्पद बनाने के लिए काफी है। सीमा ने कहा कि यदि अतुल या उनके परिवार के साथ कोई घटना होती है तो इसकी जिम्मेदारी पुलिस-प्रशासन की होगी। आईजी ने सुरक्षा का भरोसा दिया है।

611 Total Views 611 Views Today