Category Archives: Hindi

सेंट जेवियर्स गर्ल्स स्कूल में मल्टीपल इंटेलिजेंस टैस्ट का किया गया आयोजन

सेंट जेवियर्स गर्ल्स स्कूल में मल्टीपल इंटेलिजेंस टैस्ट का आयोजन किया गया।इस ऑनलाइन टेस्ट में मल्टीपल इंटेलिजेंस अभिरुचि और रीजनिंग के प्रश्न पूछे गए। दोपहर 12 बजे शुरू हुई परीक्षा में स्टूडेंट्स को 150 प्रश्न हल करने थे। मल्टीपल इंटेलिजेंस टेस्ट के लिए 120 प्रश्न व दूसरे खंड के लिए 30 प्रश्न निर्धारित थे। जिसे स्टूडेंट्स ने समय रहते हल कर लिया। क्लास 1 से 12वीं तक के स्टूडेंट्स में गजब का जोश दिखा। स्टूडेंट्स ने निर्धारित समय से पहले ही सभी क्वेश्चन सॉल्व कर दिए। इस अवसर पर पैरेंट्स ने बताया कि बच्चों के इंटेलिजेंस जानने के लिए विद्यालय का यह कदम काफी सराहनीय है।

शांति निकेतन विद्यापीठ में अटल जी को दी अश्रुपूरित श्रद्धांजलि

सेंट जेवियर्स वर्ल्ड स्कूल गाजियाबाद में धूमधाम से मनाया तीज पर्व


सेंट जेवियर्स वर्ल्ड स्कूल गाजियाबाद में तीज का पर्व बड़ी धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर बालिकाओं के लिए मेंहदी प्रतियोगिता आयोजित की गई।
कार्यक्रम का शुभांरभ विद्यालय की प्रधानाचार्या श्रीमती स्वीटा ओझा ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। विद्यालय प्रागण में पेड़ों पर झूले डाले गए और उन्हें फूलों से सजाया गया। छात्राओं ने मेहंदी बनाकर व रंगोली आदि में हिस्सा लिया। बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए।

सेट जेवियर्स वर्ल्ड स्कूल, शास्त्री नागर में स्लोगन राइटिंग कॉम्पटीशन का आयोजन


सेंट जेवियर्स वर्ल्ड स्कूल, शास्त्री नागर में पर्यावरण एवं स्वच्छता क्लव के प्रभारी आयुष गोयल/ पीयूष गोयल द्वारा से नो टू पोलोथिन विषय पर स्लोगन राइटिंग कॉम्पटीशन कराया गया! इस अवसर पर पर्यावरण एवं स्वच्छता क्लब के निदेशक आयुष गोयल और पीयूष गोयल ने बच्चों को पॉलिथीन से होने वाले दुषप्रभाव के बारे में जानकारी दी! कार्यक्रम के अंत में स्कूल प्रांगण में पौधा रोपण किया गया !स्कूल की प्रधानाचार्य कविता गर्ग ने वृक्षों का महत्व बताया उन्होंने कहा की पीपल और वट वृक्ष 24 घंटे ऑक्सीजन देते हैं! इस अवसर पर श्रीविपुल सिंघल, कविता गर्ग, प्रियंका चौहान ,कीर्ती चौहान, सांचीप्रभा, सुप्रिया चौहान शिल्पा चौधरी,आंचल शर्मा ,हिमनी छाबड़ा, सुहानी आदि उपस्थित रहे

धूमधाम से मनाया शाति निकेतन विद्यापीठ का स्थापना दिवस


शाति निकेतन विद्यापीठ का स्थापना दिवस विद्यालय परिवार द्वारा बडे़ उत्साह से मनाया गया। इस अवसर पर माँ शारदे की पूजा अर्चना के साथ हवन का आयोजन किया गया। विद्यार्थियों ने अपने शिक्षकों के सानिध्य में यज्ञ में आहुति अर्पित कर माँ शारदा से अध्ययन में सफलता तथा विद्यालय की कीर्ति इसी प्रकार चहुँदिश फैलने का आशीर्वाद प्राप्त किया। हवन के पश्चात सम्पूर्ण विद्यालय परिवार को प्रसाद वितरित किया गया।

आज के दिन ही १४ जुलाई सन २००५ को विद्यालय संस्थापक श्री नगीन चन्द जैन जी की प्रेरणा से विद्यालय का शुभारम्भ किया गया था। मेरठ में उत्कृष्ट एंव गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए प्रसिद्ध इस विद्यालय की १३ शाखाएं सफलता पूर्वक संचालित हो रही हैं। इन शिक्षण संस्थाओं का गृह और बोर्ड परीक्षा का परिणाम सदैव ही उत्कृष्ट और प्रशंसनीय रहता है। अध्ययन के अतिरिक्त कम्प्यूटर दक्षता, संगीत-नृत्य, कला, खेल , तैराकी,अटल लैब,एकसीड पाठ्यक्रम, रेडियो कार्यक्रम सहित विविध खेलों आदि की पाठ्य सहगामी गतिविधियों का स्तरीय प्रशिक्षण विद्यार्थियों को प्रदान किया जाता है। विद्यालय समूह की आधुनिक एवं तकनीकी शिक्षा पद्यति के कारण मेरठ के विद्यार्थियों की प्रतिभा में चतुर्दिक विकास हो रहा है और अभिभावक गण विद्यालय समूह से जुडकर प्रसन्नता और गर्व का अनुभव कर रहे हैं।

स्थापना दिवस में निदेशक श्री विशाल जैन ,सीईओ श्रीमती विनीता जैन, मुख्यअतिथि शामिल हुई। विद्यालय के संस्थापक व अध्यक्ष स्व. नगीन चन्द जैन जी को पुष्पांजलि अर्पित करके याद किया गया। समारोह में विद्यार्थियों ने रंगारंग प्रस्तुतियां दी। प्रधानाचार्या विभा गुप्ता ने स्कूल के इतिहास की जानकारी दी।
निदेशक श्री विशाल जैन ने विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन करते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए शिक्षा का मूल मन्त्र दिया। शिक्षा को उन्होने जीवन में उन्नति के लिए मील का पत्थर बताया।

नगीन ग्रुप आफ स्कूल के शिक्षको ने देखी प्रेरणादायी शिक्षक व स्कूली जीवन पर आधारित हिचकी फिल्म


नगीन ग्रुप आफ स्कूल के तत्वावधान मे शांति निकेतन विद्यापीठ, सेंट जेवियर्स मेरठ, सरधना एंव मीरापुर के शिक्षको ने प्रेरणादायी शिक्षक व स्कूली जीवन पर आधारित हिचकी फिल्म देखकर हालातों से हार नहीं मानने की सीख ली एंव जाना कि आम टीचर पढ़ाता है, अच्छा टीचर समझाता है और बहुत अच्छा टीचर करके दिखाता है, लेकिन कोई खास टीचर आपकी प्रेरणा बन जाता है, जिसे आप पूरी जिंदगी नहीं भूल पाते। साथ ही यह भी जाना कि विद्रोही स्वभाव के बच्चे जो किसी टीचर की कुछ नहीं सुनते थे अचानक अपनी टीचर नैना की किस प्रकार सुनने लग जाते हैं। फेल होने वाले बच्चे किस प्रकार टॉपर बन जाते हैं।

इस अवसर पर प्रधानाचार्या विभा गुप्ता, निधि मलिक, रितु सकूजा, शैली गांधी ने शिक्षको का उत्साहवर्धन किया एंव इस फिल्म को शिक्षा के क्षेत्र और शिक्षकों के लिए प्रेरणादायक बताया।

निदेशक श्री विशाल जैन ने कहा कि आमतौर पर शिक्षकों को बच्चे समझ नहीं पाते या फिर शिक्षक बच्चों को समझ नहीं पाते। हिचकी फिल्म की दिखाने का उद्देश्य इस फिल्म से प्रेरणा लेकर हम शिक्षक व विद्यार्थी दोनों को एक दूसरे के करीब ला सकते हैं। स्कूल के वातावरण को बेहतर बना सकते हैं।
शिक्षको को बच्चों की परिस्थितियों एवं पृष्ठभूमि को ध्यान में रखकर प्रोत्साहित कर उनसे बेस्ट आउट पुट लेने की कोशिश करनी चाहिए! इससे बच्चों की प्रतिभा में निखार अवश्य आएगा।

शांति निकेतन विद्यापीठ एंव सेंट जेवियर्स गर्ल्स स्कूल के विद्यार्थियो ने दिल्ली स्थित इंडिया हैबिटिएट सैंटर पर स्कालिस्टक इंडिया के तत्वावधान मे आयोजित गार्डन आफ फाईव सैंस रीड अलाउड थिंक अलाउड विषय पर आधारित कार्यशाला में लिया भाग


शांति निकेतन विद्यापीठ एंव सेंट जेवियर्स गर्ल्स स्कूल के विद्यार्थियो ने दिल्ली स्थित इंडिया हैबिटिएट सैंटर पर स्कालिस्टक इंडिया के तत्वावधान मे आयोजित गार्डन आफ फाईव सैंस रीड अलाउड थिंक अलाउड विषय पर आधारित कार्यशाला में भाग लिया!
कार्यशाला मे एक्सप्रेस माइंड की विशेषज्ञ सीमा चारी ने पठन व् लेखन की तकनीक को काफी स्पष्टता के साथ बताते हुए बच्चों को बताया कि किस प्रकार स्टोरी टैलिंग, रीडिंग एवं राइटिंग को विविध गतिविधियों के द्वारा प्रभावशाली बनाता जा सकता है!
निदेशक श्री विशाल जैन, प्रधानाचार्या विभा गुप्ता ,प्रधानाचार्या निधि मलिक ने बच्चों का उत्साहवर्धन किया! इस अवसर पर एक्सप्रेस माइंड वरिष्ठ प्रबंधक कविता नऱूला एंव उनकी टीम का विशेष योगदान रहा!

सक्षम संस्था ने मवाना रोड की बदहाली को दिखाया

फाइल फोटो
फाइल फोटो – फोटो : अमर उजाला ब्यूरो
मवाना रोड की बदतर हालत को सक्षम संस्था ने अधिकारियों को दिखाया। संस्था अध्यक्ष ने अपर आयुक्त को ज्ञापन सौंपकर जल्द सड़क की मरम्मत कराने का आग्रह किया। सक्षम संस्था अध्यक्ष आशीष मलिक अपने कार्यकर्ताओं के साथ मंडलायुक्त से मिलने पहुंचे। मंडलायुक्त डॉ. प्रभात कुमार की अनुपस्थिति में उन्होंने अपर आयुक्त राम नारायण धामा को ज्ञापन सौंपा। उन्होंने बताया कि मवाना रोड का हाल बुरा हो चुका है। पंद्रह किमी. की दूरी तय करने पर करीब एक घंटे से ज्यादा का समय लग रहा है। जेपी कॉलेज के सामने सड़क पर खाई बन चुकी है। जिसमें रोजाना छोटे वाहन फंस रहे है, लोग गिरकर चोटिल हो रहे हैं। वहीं जाम की स्थिति बन जाती है। बताया कि गड्ढों की वजहों से करीब आधा दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। व्यापारियों, स्कूली बच्चों को जान का खतरा बना रहता है। वहीं क्षेत्रीय लोगों का जीना मुहाल हो चुका है। संस्था के सदस्यों ने फिलहाल प्राथमिकता से सड़क के गड्ढे भरवाने का आग्रह किया। तेजबहादुर, संदीप चौधरी, मोहित चौधरी, अभिषेक शास्त्री व टीटू मसूरी आदि मौजूद रहे।

दुल्हन की फोटो दिखा… कस्टमर को फंसा लेते थे जाल में, युवतियों समेत 14 गिरफ्तार

मौके से ये तीन आरोपी पकड़े गए
मौके से ये तीन आरोपी पकड़े गए

मामला उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले का है। यहां एक फर्जी मैरिज ब्यूरो का भंडाफोड़ हुआ है। जिसमें 11 युवतियों समेत 14 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। आरोपी यूपी, हरियाणा, दिल्ली, पंजाब व राजस्थान समेत कई राज्यों में शादी कराने का झांसा देकर लोगों से ठगी करते थे। एक आरोपी एक भाजपा नेता की पुत्री भी है। आरोपी युवतियां ब्रह्मपुरी, टीपीनगर और कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र की हैं।

यह फर्जी मैरिज ब्यूरो दिल्ली रोड स्थित वीर नगर में चल रहा था। दिल्ली के रोहिणी सेक्टर-5 निवासी विनोद ने साइबर सेल में शिकायत की थी। आरोप था कि मैरिज ब्यूरो संचालक ने अच्छे परिवार की सुंदर लड़की के रिश्ते बताए थे। कई लड़कियों के फोटो उसको दिखाए। शादी से पहले 11 हजार रुपये रजिस्ट्रेशन के नाम पर फीस जमा कराई। लेकिन शादी नहीं कराई।

एसपी क्राइम शिवराम यादव के अनुसार साइबर सेल के उमेश कुमार, महिला थाना पुलिस और ब्रह्मपुरी पुलिस ने ब्यूरो ऑफिस में छापा मारा। ब्यूरो संचालक अरुण शर्मा निवासी शिवहरि मंदिर कालोनी बागपत रोड समेत तीन युवकों और 11 युवतियों को पकड़ा गया। इन युवतियों पर शादी के नाम पर युवकों को फंसाने का आरोप है। ऑफिस से 5 लैपटॉप, 16 कंप्यूटर, दो मोहर, 10 स्लिप बुक, 10 रजिस्टर, 17 मोबाइल फोन बरामद हुए।

रिश्ते कराने की लगती थी बोली

फाइल फोटो

फाइल फोटो
एसपी क्राइम ने बताया कि ये लोग अच्छे रिश्ते कराने के नाम पर बोली लगाते थे। 21 हजार रुपये तक रजिस्ट्रेशन फीस लेते थे। सोशल साइट पर ऑनलाइन आवेदन के लिए सुंदर लड़कियों के फैमिली सहित फोटो लोड होते थे। रजिस्ट्रेशन फीस जमा कर शादी नहीं कराते थे।

थाने में हंगामा, पुलिस पर आरोप 
युवतियों को छुड़ाने के लिए कई लोगों ने महिला थाने में हंगामा किया। एक भाजपा नेता द्वारा की सिफारिश रात भर पुलिस अधिकारियों के पास आती रही। युवतियों ने बताया कि वे तो यहां 4-5 हजार रुपये की जॉब करती हैं। इस फर्जीवाड़े से उनका क्या लेना-देना। पुलिस की सेटिंग से यह फर्जी मैरिज ब्यूरो चल रहा था। छापा मारने से पहले भी पुलिस ने सेटिंग करने का प्रयास किया, बात नहीं बनी तो उनको पकड़ लिया।

रिश्वत लेते रंगेहाथ दबोचा एचसीपी

फाइल फोटो
फाइल फोटो – फोटो : अमर उजाला ब्यूरो
एंटी करप्शन टीम ने शुक्रवार दोपहर 15 हजार की रिश्वत लेते एचसीपी को रंगेहाथ दबोच लिया। एचसीपी दहेज उत्पीड़न मुकदमे की जांच कर रहे थे। हालांकि पीड़ित महिला और उसके पति के बीच समझौता हो गया था, लेकिन एचसीपी मुकदमे में एफआर लगाने के एवज में महिला से 50 हजार रुपये मांग रहा था। एंटी करप्शन ने आरोपी एचसीपी को कचहरी में गिरफ्तार कर सिविल लाइन पुलिस को सौंप दिया।

लिसाड़ीगेट के लखीपुरा निवासी गुलिफ्शा पुत्री मरहूम नसीरूद्दीन ने बृहस्पतिवार सुबह एंटी करप्शन मेरठ में शिकायत की थी कि लिसाड़ीगेट थाने में तैनात एचसीपी सुखपाल सिंह राघव रिश्वत मांग रहे हैं। एंटी करप्शन टीम ने शुक्रवार सुबह ही एचसीपी को रंगेहाथ पकड़ने की प्लानिंग कर ली। एचसीपी ने रिश्वत के पैसे लेने के लिए महिला को कचहरी गेट पर जयसवाल फोटो स्टेट पर बुला लिया। एचसीपी ने जैसे ही रिश्वत के 15 हजार रुपये लिए, एंटी करप्शन इंस्पेक्टर जेके तोमर और उनकी टीम ने उसे रंगेहाथ दबोच लिया।

इस मामले में ली रिश्वत 
इंस्पेक्टर जेके तोमर ने बताया है गुलिफ्शा का निकाह 29 जून 2017 में शौकीन निवासी सुभाष नॉर्थ दिल्ली से हुआ था। दहेज को लेकर दंपति में विवाद हो गया। लिसाड़ीगेट थाने में गुलिफ्शा की शिकायत पर मुकदमा दर्ज हुआ था। इसकी विवेचना 20 फरवरी 2018 से एचसीपी सुखपाल सिंह कर रहे थे। इस बीच दोनों परिवार में समझौता हो गया। इसका शपथ पत्र विवेचक सुखपाल सिंह को दिया। विवेचक ने 50 हजार रुपये की डिमांड कर एफआर लगाने की बात कही।

एचसीपी ने की थी सौदेबाजी
तीन दिन से एचसीपी फोन कर गुलिफ्शा से पैसे मांग रहा था। बाद में बात 15 हजार में तय हुई। शुक्रवार सुबह से ही एचसीपी ने फोन करने शुरू कर दिए। महिला लिसाड़ीगेट थाने पहुंची। वहां एचसीपी नहीं मिले। उसके बाद एचसीपी ने महिला को कचहरी आने को कहा। महिला एंटी करप्शन टीम के भी संपर्क में थी। महिला ने कचहरी में एचसीपी को जैसे ही पैसे दिए एंटी करप्शन टीम ने उसको दबोच लिया।

दरोगा जी… पकड़े जाओगे
महिला से रिश्वत मांगी जा रही है। एंटी करप्शन में एचसीपी की शिकायत हो चुकी है। इसके बारे में इंस्पेक्टर लिसाड़ीगेट मोहम्मद असलम को भी जानकारी थी। इंस्पेक्टर ने सुखपाल सिंह को बताया था कि दरोगा जी पकड़े जाओगे। तुम्हारे पीछे एंटी करप्शन लगी है। इसके बावजूद भी सुखपाल सिंह नहीं माने।