Category Archives: Crime

शहर के बीचोंबीच हत्या, बेखबर रही पुलिस

murder in meerut city center point
police capPC: अमर उजाला
लोहा कारोबारी की अपहरण के बाद शहर के बीचोंबीच हत्या कर दी गई और पुलिस को भनक तक नहीं लगी। ऐसे समय जब निकाय चुनाव को लेकर शहर अलर्ट पर है। कारोबारी के परिजन जहां रंजिश से इंकार कर रहे हैं तो पुलिस अधिकारी लेन-देन में हत्या होना मान रहे हैं।
लोहा कारोबारी सुनील गर्ग पुत्र शिवकुमार गर्ग रविवार शाम करीब 4 बजे घर से बाइक से निकले थे। परिजनों से कहा था कि उन्हें फूलबाग कॉलोनी में जरूरी काम से जाना है। करीब एक घंटे बाद उनका मोबाइल स्विच ऑफ हो गया। काफी तलाश के बाद परिजन रात करीब दस बजे सिविल लाइन थाने पहुंचे और तहरीर दी। इस बीच उनकी बाइक सूरजकुंड के पास शिवलोक अस्पताल के सामने खड़ी मिली। सूरजकुंड पुलिस चौकी पर दो थानों का बार्डर लगता है। रात में भीड़भाड़ वाले इलाके में कारोबारी की हत्या कर दी जाती है। पुलिस का कहना है कि कारोबारी की हत्या या तो किसी कार में या मकान में की गई।

नाले के पास छोड़कर भागे
पुलिस के अनुसार जहां से कारोबारी का शव बोरे में बंद मिला, पास ही एक राजनैतिक दल का कार्यालय है। संभवत: हत्यारे बोरे को नाले में फेंकना चाहते थे। लेकिन हो सकता है कि चुनावी चहल-पहल के चलते किसी को आता देख शव नाले के पास फेंक दिया गया हो। पुलिस को एक जगह सीसीटीवी कैमरे की फुटेज से कुछ सफलता मिली है।
मिलनसार थे सुनील
कारोबारी सुनील मिलनसार थे। जिनका किसी से कोई विवाद नहीं होना बताया गया। बेटा शुभम भी पिता के साथ हाथ बंटाता है। दो बेटियों में एक की शादी हो चुकी है। सुनील के भाई संजीव गर्ग ने बताया कि रंजिश जैसी कोई बात नहीं है।

बचाव के लिए किया संघर्ष
कारोबारी के एक हाथ की अंगुली कटी मिली। हाथ और चेहरे पर भी चाकू से कई वार किए गए। पुलिस का मानना है कि सुनील ने बचाव के लिए संघर्ष किया था।
मोबाइल खोलेगा राज
कारोबारी के मोबाइल फोन पर दोपहर बाद आधा दर्जन कॉल आई थीं। जिनमें एक नंबर को पुलिस संदिग्ध मान रही है। बीच में उन्होंने एक बार कॉल भी की थी। पुलिस का कहना है कि सीडीआर से कामयाबी मिल सकती है।

बड़ी रकम लेनी थी लोगों से
पुलिस के अनुसार कारोबारी ने नौचंदी व लिसाड़ी गेट की कई फैक्ट्रियों में लाखों रुपये का उधार माल दिया था। एक सप्ताह पूर्व शहर के एक व्यापारी ने होटल में सुसाइड कर लिया था। जिस पर भी कारोबारी का उधार था। लिसाड़ी गेट से भी हत्या के तार जुड़ रहे हैं।
कोट
परिजनों ने किसी रंजिश से इंकार किया है। कई बिंदुओं पर गहनता से जांच हो रही है। बेटे से भी जानकारी ली गई है। जल्द ही हत्याकांड का खुलासा करेंगे। -मंजिल सैनी, एसएसपी

पुलिस ने बदमाश को आबूलेन पर कराई शॉपिंग

police ne badmaash ko aabulane par karaai shopping
फाइल फोटोPC: अमर उजाला ब्यूरो
पुलिस कस्टडी में बदमाशों की मौजमस्ती का सिलसिला बदस्तूर जारी है। कुख्यात सारिक को दिल्ली अस्पताल में ले जाने के बहाने मेरठ पुलिस का मुरादनगर के ढाबे में खातिरदारी और शूटरों से मीटिंग कराने का मामला ठंडा भी हुआ नहीं था कि आगरा पुलिस की भी पोल खुल गई। सोमवार को आगरा पुलिस एक बदमाश को सहारनपुर कोर्ट में ले जाने की बजाय मेरठ शहर के पॉश आबूलेन बाजार में शॉपिंग कराने पहुंच गई। मीडिया के पहुंचते पुलिसकर्मी बदमाश को वहां से लेकर भागने लगे।
आगरा पुलिस लाइन से चार पुलिसकर्मी जेल से बंदी साकिब को सहारनपुर की कोर्ट में पेशी पर लेकर जा रहे थे। पुलिसकर्मी सहारनपुर ले जाने की बजाय बंदी को आबूलेन के बाजार में लेकर पहुंच गए। पुलिसकर्मियों ने बंदी के हाथ से हथकड़ी खोल दी। उन्होेंने पहले गोलगप्पे और चाट पकौड़ी खाई। उसके बाद पुलिसकर्मियों ने एक शोरूम में बंदी को शॉपिंग कराई। पुलिस और बंदी की दोस्ती व्यापारियों ने भी देखी। इसी दौरान एक दुकानदार ने पुलिस को सूचना दे दी। लेकिन पुलिस से पहले मीडिया वहां पहुंच गई। मीडियाकर्मियों ने बंदी और पुलिसकर्मियों को कैमरे में कैद किया तो अफरातफरी मच गई। पुलिसकर्मियों ने कैमरे की फ्लैश चमकते ही बंदी के हाथ में हथकड़ी लगाई और शोरूम से निकलकर सहारनपुर के लिए रवाना हो गए। पुलिसकर्मियों ने बताया कि बंदी साकिब पर लूट, अपहरण समेत कई संगीन मामले चल रहे हैं।

वीआईपी की तरह की शॉपिंग 
ब्रांडेड शर्ट, जींस और शूज पहने बंदी ने शोरूम में वीआईपी की तरह शॉपिंग की। पुलिसकर्मी इस बंदी के इस कदर दबाव में दिखे कि उसकी हथकड़ी तक खोल दी। पुलिसकर्मी बंदी के इशारों पर काम कर रहे थे। लग तो ऐसा रहा था कि जैसे हथियारबंद पुलिसकर्मी किसी बड़े अफसर को शॉपिंग कराने आए हैं। यही नहीं, आबूलेन में बंदी ने खूब चहलकदमी की। मीडिया के पहुंचने पर लोगों को पता चला कि वह कोई वीआईपी नहीं था, बल्कि आगरा जेल का एक बंदी था। जिसके बाद व्यापारियों ने बंदी को हथकड़ी लगाकर जाते देखा तो आश्चर्यचकित रह गए।

गंगानगर में दिनदहाड़े ज्वैलरी शॉप लूटी, राहगीर को गोली मारी

Day-to-day jewelery shop in Ganganagar shot to Loti, Rahgir
पिस्टल की फाइल फोटो।PC: अमर उजाला
महानगर के सराफ फिर बदमाशों के निशाने पर आ गए हैं। बृहस्पतिवार दिनदहाड़े गंगानगर के कसेरूबक्सर की मेन मार्केट में चार हथियारबंद बदमाशों ने ज्वैलरी शॉप लूट ली। सराफ और दो महिला ग्राहकों को बुरी तरह पीटा। तिजोरी का लॉक खुलवाने के लिए बदमाशों ने सराफ पर तमंचे की बट से प्रहार किया। विरोध करने पर एक राहगीर को गोली मार दी। बदमाश काउंटर में रखे 250 ग्राम चांदी के जेवर लूटकर फरार हो गए।
घटना दोपहर करीब 1:12 बजे की है। न्यू मीनाक्षीपुरम गंगानगर निवासी सराफ बिट्टू वर्मा की शगुन ज्वैलर्स नाम से दुकान है। दुकान पर एक महिला और एक युवती चांदी के जेवर खरीदने आई थीं। तभी एक के बाद एक चार बदमाश दुकान में घुस आए। तीन बदमाश हेलमेट लगाए हुए थे जबकि चौथे बदमाश ने मास्क लगा रखा था।  बदमाशों ने दोनों महिलाओं को धक्का दिया तो सराफ ने फुर्ती दिखाते हुए तिजोरी का लॉक लगा दिया।
जिस पर बदमाशों ने लॉक खुलवाने के लिए सराफ और दोनों महिलाओं को पीटना शुरू किया। एक बदमाश ने काउंटर में लगी चांदी की ज्वैलरी बैग में भरनी शुरू कर दी। बदमाश बार-बार गोली मारने की धमकी दे रहे थे। बदमाशों ने तिजोरी खोलने का काफी प्रयास किया। लेकिन वह नहीं खुली। जिस पर बदमाशों ने दुकान के गेट पर पहुंचकर गोलियां चला दीं। एक गोली राहगीर अमित जैन के पैर में लगी। फायरिंग होने से बाजार में अफरातफरी मच गई। छत से एक युवक ने बदमाशों पर पत्थर मारे। बदमाश अलग-अलग बाइक से फरार हो गए।

लूट का विरोध करने पर मारी गोली
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि अमित जैन को बदमाशों ने लूट का विरोध करने में गोली मारी थी। गनीमत रही कि गोली पैर में ही लगी। युवक का निजी अस्पताल में उपचार कराया गया। बदमाशों से सराफ को भी तमंचे की बटों से पीटा। दोनों महिलाओं के साथ अभद्रता की गई। यही नहीं, सराफ और दोनों महिलाओं को दुकान से बाहर खींचने तक का प्रयास किया है। दुकान में बदमाश घुसे हैं, इसकी जानकारी भी आसपास के लोगों को हो गई थी। लोग इससे पहले कुछ समझते, बदमाश सरेआम तमंचे लहराते वहां से फरार हो गए।
सूचना पर एक्टिव नहीं हुई पुलिस
ज्चैलरी शॉप लूट की सूचना मिलने के बावजूद पुलिस एक्टिव नहीं हुई। सूचना के करीब 15 मिनट बाद गंगानगर थाना पुलिस मौके पर पहुंची। जबकि वहां से सिर्फ पांच मिनट का रास्ता है। बदमाश मवाना की तरफ भागे। लेकिन चेकिंग अभियान भी नहीं चला। पुलिस की लापरवाही को लेकर लोगों में जबरदस्त आक्रोश है।

250 ग्राम चांदी गई, नो टेंशन
गंगानगर पुलिस ने सीओ सदर देहात और एसपी देहात को जानकारी दी कि लूट की वारदात में सिर्फ 250 ग्राम चांदी गई है। टेंशन लेने की कोई बात नहीं है। कोई हंगामा भी नहीं हो रहा। हालांकि मामले की जानकारी लगते ही सीओ और एसपी देहात मौके पर पहुंच गए। आला अधिकारियों ने बदमाशों की धरपकड़ के लिए दबिशें दिलवाई।

सीसीटीवी कैमरे में कैद वारदात
चार बदमाश दो बाइक होंडा शाइन और सलेटी रंग की अपाचे से आए थे। पहले दोनों बाइक दुकान से आगे निकल गई थी और फिर एक मिनट बाद बदमाश बाइक मोड़कर लाए। बदमाशों ने दुकान में घुसते ही कहर बरपाना शुरू कर दिया था। यह सब कुछ दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया। पुलिस अधिकारियों ने फुटेज देखकर घटना को गंभीर बताया। क्राइम ब्रांच को इस मामले में लगाया गया है।
कपिल गैंग ने की वारदात
इसी शगुन ज्वैलर्स में बदमाशों ने एक साल पहले अक्तूबर माह में ही डकैती डाली थी। बदमाश सोने-चांदी के जेवर और नगदी लूटकर ले गए थे। उस समय भी बदमाशों ने फायरिंग की थी, जिसमें एक गोली बच्चे को छूकर निकली थी। एक साल में छह से ज्यादा थानेदार बदल गए। लेकिन डकैती का खुलासा नहीं हुआ। चर्चा है कि बृहस्पतिवार की वारदात को कपिल गैंग ने अंजाम दिया है।

यह संगीन वारदात
एसएसपी मंजिल सैनी दहल का कहना है कि बदमाशों ने कहर बरपाकर ज्वैलरी शॉप में लूट की है। फुटेज के आधार पर बदमाशों की तलाश की जा रही है। एक युवक के पैर में गोली लगी है। पुलिस जल्द ही इस वारदात का खुलासा करेगी। गंगानगर पुलिस की लापरवाही की जांच कराई जाएगी।

बारात की बस पर पथराव, गन प्वाइंट पर लेकर महिलाओं से अभद्रता

The stone pellet on the bus, gun, tampering with women
जानकारी देते घायल बारातीPC: अमर उजाला ब्यूरो
मेरठ में बिजली बंबा बाईपास पर शनिवार रात बारात की बस और ऑटो की टक्कर के बाद बखेड़ा हो गया। ऑटो चालक ने अपने गांव से दो दर्जन से अधिक युवकों को बुलाकर बस पर पथराव कर दिया। आरोप है कि तमंचे के बल पर आतंकित करते हुए बस को कब्जे में लेकर महिलाओं से अभद्रता के अलावा लूटपाट की गई। विरोध करने पर तीन महिलाओं के सिर फोड़ दिए। गढ़ गंगा से लौट रहे श्रद्धालुओं ने तीन आरोपियों को पीटकर पुलिस को सौंप दिया।
पुलिस के अनुसार मुंडाली के समयपुर सिसौली निवासी दिलशाद की बारात की बस शनिवार रात मुरादनगर से लौट रही थी। बस में अधिकांश महिलाएं थीं। बस बिजली बंबा बाईपास पर जुर्रानपुर फाटक के पास पहुंची तो ऑटो से बस टकरा गई। ऑटो चालक जावेद और बस चालक में मारपीट हो गई। आरोप है कि जावेद ने फोन करके जुर्रानपुर से दो दर्जन युवकों को बुला लिया। युवकों ने बस चालक और बारातियों को पीटना शुरू कर दिया। आरोप है कि महिलाओं से अभद्रता करते हुए उनके कुंडल, चेन और अंगूठी लूट लीं। विरोध करने पर मारपीट कर दी। महिलाएं जान बचाने के लिए चिल्लाती रहीं। लेकिन आरोपी लूटपाट और मारपीट करते रहे।

हमले में दो महिलाओं के चेहरे पर गंभीर चोट लगी हैं।

घायल महिलाPC: अमर उजाला ब्यूरो

इस बीच गढ़ गंगा से स्नान कर ट्रैक्टर ट्रॉलियों से श्रद्धालु लौट रहे थे। बस में मारपीट होती देखकर उन्होंने शोर मचाकर महिलाओं की जान बचाई। इस दौरान आरोपी जंगल के रास्ते भाग निकले। ऑटो चालक जावेद, समीर, माजिद को लोगों ने पकड़ लिया। सूचना पर ब्रह्मपुरी और परतापुर पुलिस मौके पर पहुंची। सीमा विवाद में घटना क्षेत्र परतापुर थाने का बताया। जिसके बाद बस चालक ने परतापुर थाने में तहरीर दी। पुलिस ने मारपीट में घायल तीन महिलाओं को अस्पताल में ले जाकर उपचार कराया। बस चालक रहमत और परिचालक साबेज भी गंभीर रूप से घायल हो गये। 

श्रद्धालुओं ने बचाई जान
रात में यदि श्रद्धालु ट्रैक्टर ट्रॉली से न लौटते तो बड़ा मामला हो सकता था। महिलाओं मदद की गुहार लगाती रहीं। श्रद्धालुओं ने ही आरोपियों को पकड़कर पीटा और पुलिस को सौंपा। आरोपी के ऑटो में भी तोड़फोड़ कर दी। बिजली बंबा बाईपास पर रात के आठ बजे भी यदि ऐसी घटना हो जाए तो फिर पुलिस गश्त पर भी गंभीर सवाल उठ रहे हैं।

थाने में घटना की जानकारी देते बारातीPC: अमर उजाला ब्यूरो

इंस्पेक्टर परतापुर रघुराज सिंह ने बताया कि छेड़छाड़ और लूटपाट का आरोप गलत है। पूरे मामले में ऑटो और बस की टक्कर होने के बाद मारपीट का मामला सामने आया है। दो महिलाओं को चोट लगी हैं। दोनों पक्षों ने थाने में लिखित में समझौता कर लिया। जिसके बाद दोनों पक्षों के लोगों को छोड़ दिया।  

एसपी सिटी मान सिंह ने कहा कि चौहान प्रारंभिक जांच में सामने आया कि टक्कर लगने पर युवकों ने बस पर पथराव किया। जिसके बाद मारपीट हुई। हालांकि अभद्र व्यवहार और लूटपाट की बात अभी सामने नहीं आई है। घटना को छिपाने पर इंस्पेक्टर परतापुर के खिलाफ जांच बैठा दी है। पूरे घटनाक्रम की नए सिरे से जांच होगी।

कुश्ती खिलाड़ी की गोलियां बरसाकर हत्या, परिजनों में मचा कोहराम

Wrestling player shot dead, Kohram in family
अस्पताल में जांच करती पुलिसPC: अमर उजाला ब्यूरो
मेरठ के कंकरखेड़ा में रविवार देर रात कुश्ती खिलाड़ी की गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई। पुलिस ने हत्यारोपियों की तलाश में बाईपास पर घेराबंदी की। लेकिन वे हत्थे नहीं चढ़े। हत्या का कारण रंजिश बताया गया है।

पुलिस के अनुसार श्रद्धापुरी डबल स्टोरी निवासी पिंकुल चौधरी (22) पुत्र राजेंद्र पहलवान एक कॉलेज में छात्र के साथ कुश्ती खिलाड़ी था। रविवार रात पिंकुल दोस्त रोहित और मोनू के साथ स्कोडा कार से शास्त्रीनगर से घर लौट रहा था। कार डबल स्टोरी में पहुंची तो वहां बाइक सवार तीन युवकों ने कार रुकवाकर पिंकुल को आवाज लगाई। पिंकुल कुछ समझ पाता, एक युवक ने पिंकुल के सीने में पिस्टल से तो दूसरे ने चेहरे पर तमंचे से गोली चला दी। दोनों दोस्त उसे बचाने दौड़े तो हमलावरों ने फिर फायरिंग कर दी। खून से लथपथ पिंकुल को निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

परिजनों में मचा कोहराम

गोली मारकर हत्या

पिंकुल की मौत के बाद परिजनों में कोहराम मच गया। उसकी मां और परिजनों का रोकर बुरा हाल था। पुलिस ने किसी तरह परिजनों को शांत कराकर शव मोर्चरी भेजा।

सुशांत बना मुख्य आरोपी
इंस्पेक्टर कंकरखेड़ा सचिन मलिक ने बताया कि हत्या में सुशांत राठी निवासी सौनटा थाना मंसूरपुर मुजफ्फरनगर मुख्य आरोपी है। जिसने अपने दो साथियों के साथ घटना को अंजाम दिया है। सुशांत भी न्यू सैनिक कालोनी में रह रहा है। सुशांत ने साथियों के साथ मिलकर पांच साल पहले साकेत पेट्रोल पंप पर मेरठ कॉलेज के दो छात्रों की गोली बरसाकर हत्या कर दी थी।

रंजिश में की हत्या
इंस्पेक्टर के अनुसार हत्याकांड को प्लानिंग के साथ अंजाम दिया गया। हत्यारोपियों ने कार रुकवाकर पिंकुल से बात की और फिर सीने और चेहरे पर गोलियां बरसा दीं। प्रारंभिक जांच में यह पुरानी रंजिश का मामला लग रहा है। परिजनों से पूछताछ और सुशांत के पकड़े जाने के बाद इसका सही खुलासा होगा।

फल मंडी में सिपाही के पास बैठे प्रधान की हत्या से सनसनी, फोर्स तैनात

The killing of the head of the fruit market, delhi road jam
फल व्यापारी की गोली मारकर हत्याPC: अमर उजाला
मेरठ में सोमवार सुबह एक सनसनीखेज वारदात को अंजाम दिया गया। दिल्ली रोड स्थित नवीन फल मंडी में सिपाही के पास बैठे एक व्यापारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। व्यापारी का नाम रहीसुद्दीन बताया जा रहा है। दो साल पहले रहीसुद्दीन ने भी मंडी में गोली चलाई थी। घटना के बाद दिल्ली रोड पूरी तरह जाम हो गया। वहीं सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची और मामले की छानबीन कर रही है। जांच होने के बाद ही पता चल पाएगा कि हत्या के पीछे कारण क्या है।
पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। आरोपी के पकड़े जाने पर उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। हालांकि पुलिस ने मौके पर पहुंचकर व्यवस्था को संभाला और जाम खुलवा दिया। इस बीच दिल्ली की ओर आ रहे वाहन कई किलोमीटर तक जाम हो गए।

दिवाली से महज दो दिन पहले हत्या होने से शहर में तनाव की स्थिति बन गई है। इसी के मद्देनजर प्रशासन ने भारी संख्या में पुलिस तैनात कर दिया है।

मुठभेड़ में दरोगा घायल, पुलिस ने एक बदमाश को मारी गोली, दूसरा फरार

Encounter : police fired in a counter-shot, Daroga injured
मुठभेड़ में दरोगा घायलPC: अमर उजाला ब्यूरो
सहारनपुर के नकुड़ में बाइक सवार दो बदमाशों ने चेकिंग के दौरान पुलिस पर फायरिंग कर दी और भागने लगे। पुलिस ने पीछा कर बदमाशों को गांव नीची नकुड़ के पास घेर लिया। इस दौरान हुई मुठभेड़ में एक बदमाश गोली लगने से घायल हो गया, जबकि दूसरा भाग गया। एक दरोगा को भी गोली लगी है। दोनों को जिला चिकित्सालय भर्ती कराया है। सूचना पर पहुंचे एसपी देहात की अगुवाई में कई थानों की पुलिस ने दूसरे बदमाश की तलाश में घंटों कांबिग की, लेकिन उसका सुराग नहीं लग सका।
मुठभेड़ की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे एसपी देहात विद्या सागर मिश्र ने बताया कि सोमवार की रात नकुड़ कोतवाली प्रभारी जितेंद्र कुमार सिंह पुलिस टीम के साथ नकुड़ बस अड्डे पर स्थित पेट्रोल पंप के पास रूटीन चेकिंग कर रहे थे। रात करीब पौने दस बजे पुलिस ने सहारनपुर की ओर से आ रहे बाइक सवार दो लोगों को जैसे ही रुकने का इशारा किया तो उन्होंने पुलिस पर फायरिंग कर दी और शाहजहांपुर रोड की ओर भाग गए। पुलिस ने पीछा कर नकुड़-शाहजहांपुर रोड पर गांव नीची नकुड़ के पास बदमाशों को घेर लिया। खुद को घिरता देख बदमाश बाइक सड़क पर छोड़ एक बाग में घुस गये और पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। इस दौरान हुई मुठभेड़ में दोनों ओर से कई राउंड फायरिंग हुई। इसमें एसआई अजय कुमार गौड़ कंधे में गोली लगने से घायल हो गए। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में एक बदमाश ओमपाल पुत्र हजारी सिंह निवासी हसनपुर लुहारी थानाभवन भी घुटने में गोली लगने से घायल होकर वहीं गिर पड़ा। उसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया। दूसरा बदमाश अंधेरे का फायदा उठाते हुए भाग हो गया। सीओ यतेंद्र नागर ने बताया कि पकड़े गए बदमाश से 32 बोर का एक पिस्टल, पांच कारतूस तथा बाइक जिसमें 315 बोर का एक कारतूस बरामद हुआ है। घायल दरोगा और पकड़े गए बदमाश का जिला में इलाज चल रहा है।

पकड़े गए बदमाश का आपराधिक रिकार्ड खंगाल रही पुलिस

पुलिस मौके पर तैनात

पुलिस पकड़े गये बदमाश का आपराधिक रिकार्ड खंगाल रही है। एसओ जितेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि अभी तक की जानकारी के मुताबिक बदमाश ओमपाल पुत्र हजारीसिंह निवासी गांव हसनपुर लुहारी, थाना थानाभवन, जिला शामली के खिलाफ सहारनपुर, थानाभवन, मिर्जापुर, ननौता व चिलकाना आदि थानों में विभिन्न संगीन धाराओं में दो दर्जन से अधिक मुकदमे पंजीकृत मिले हैं। जबकि, फरार हुए बदमाश के बारे में जानकारी जुटायी जा रही है।

स्कूल से लौट रहे किशोर की अगवा करके हत्या

 student murdered retuning from school
फाइल फोटोPC: अमर उजाला ब्यूरो
परीक्षितगढ़ स्थित सरस्वती स्कूल से लौटते छात्र की लालपुर-नंगलासाहू के जंगल में अगवा करके हत्या कर दी गई। हत्यारों ने पहले छात्र के घर फोन से पचास लाख की फिरौती मांगी, छात्र को खोजते हुए ग्रामीण जंगल में पहुंचे तो छात्र की हत्या करके हत्यारे फरार हो गये। परिजनों ने दूसरे समुदाय के लोगों पर हत्या करने का अंदेशा जताया हैं। गुस्साए ग्रामीणों ने देर रात मोर्चरी के सामने गढ़ रोड पर जाम लगा दिया। पुलिस ने तीन लोगों को पूछताछ के लिए उठाया है।

इंचौली थानाक्षेत्र के नबीपुर गांव निवासी रणवीर सिंह गुर्जर का बेटा शिवा (15) उर्फ भोलू परीक्षितगढ़ में रोजाना साइकिल से पढ़ने जाता था। सोमवार को शाम चार बजे तक शिवा नहीं लौटा तो बहन शिखा ने उसके मोबाइल पर कॉल की। फोन पर शिखा को धमकाते एक व्यक्ति ने शिवा को अगवा बताया और छोड़ने की एवज में 50 लाख फिरौती मांगी। फिरौती की रकम हरियाणा पहुंचाने की बात कही। आसपास के लोगों को इसकी जानकारी लगी तो वह एकत्र होने लगे। इसी दौरान गांव के मनीष और राजवीर ने बताया कि शिवम को साइकिल से आते नंगलासाहू गांव के जंगल में आते देखा था। ग्रामीण ट्रैक्टर ट्राली पर सवार होकर छात्र को खोजने निकल पडे़। लालपुर-नंगलासाहू गांव के जंगल में ग्रामीणों को गोली की आवाज सुनी तो वह दौड़कर वहां पहुंचे। सड़क से करीब तीन किमी. कच्चे रास्ते पर ईख के खेत में शिवा खून से लथपथ पड़ा था। ग्रामीणों ने आनन फानन में उसको आनंद हॉस्पिटल में भी भर्ती कराया, जहां उसकी मौत हो गई।

गाय के विवाद में हुई हत्या 
ग्रामीणों ने बताया कि रणवीर सिंह खेत बाड़ी का काम करते हैं। उनके 15 बीघा जमीन है और हत्यारों ने 50 लाख रुपये की फिरौती मांगी। यह मामला फिरौती का नहीं हैं। पुलिस के मुताबिक रणवीर सिंह ने कुछ दिन पहले 15 हजार रुपये में नंगलासाहू गांव के दूसरे समुदाय के एक किसान को गाय बेची थी। चार दिन पूर्व गाय की मौत हो गई। जिस पर नंगलासाहू का किसान रोजाना शिवा को बीमार गाय बेचने की बात कहकर टोकता था। कई बार दोनोें में कहासुनी भी हुई। ग्रामीणों को अंदेशा है कि इसी विवाद में शिवा की हत्या हुई हैं।

ग्रामीणों की आवाज सुनकर मारी गोली 
पुलिस के मुताबिक नबीपुर, नंगलासाहू और लालपुर गांव एक दूसरे से सटे हैं। ग्रामीण शिवा को ढूंढ रहे थे। हत्यारों को ग्रामीणों के पहूंचने का आभास हो गया था। आवाज सुनते ही हत्यारों ने शिवा के सीने में सटाकर गोली मार दी। बदमाशों ने तीन बजे से शिवा को बंधक बनाया था और उसको शाम करीब छह बजे गोली मारकर फरार हुए। पुलिस को अंदेशा है कि नबीपुर के ग्रामीण बदमाशों तक पहुंच गए थे। शिवा उनको जानता होगा। शिवा को छोड़ देते तो उनकी पहचान खुल जाती, इस वजह से उसको गोली मार दी।

घटना के बाद सांप्रदायिक तनाव 
बच्चे की हत्या के बाद नबीपुर और नंगलासाहू गांव में सांप्रदायिक तनाव की स्थिति बन गई। हत्या करने वाले दूसरे समुदाय के हैं। इसको लेकर नबीपुर के ग्रामीणों में आक्रोश हैं। इसकी जानकारी पर एसएसपी मंजिल सैनी दहल, एसपी देहात राजेश कुमार समेत कई थाने की पुलिस मौके पर पहुंची।

गुरुग्राम में बच्चे की हत्या के मामले में बड़ी कार्रवाई, रयान स्कूल के दो सीनियर अधिकारी गिरफ्तार

गुरुग्राम में बच्चे की हत्या के मामले में बड़ी कार्रवाई, रयान स्कूल के दो सीनियर अधिकारी गिरफ्तार

गुरुग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के बच्चे की शुक्रवार को हत्या कर दी गई थी

खास बातें

  1. सोहना के SHO को सस्पेंड किया गया
  2. स्कूल का जूनियर और नर्सरी सेक्शन अगले आदेश तक बंद
  3. SIT जांच में स्कूल में कई खामियां उजागर

गुरुग्राम: गुरुग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के बच्चे की बेरहमी से की गई हत्या के मामले में स्कूल मैनेजमेंट के दो सीनियर अधिकारियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. स्कूल के रीजनल हेड और एचआर हेड को गिरफ्तार किया गया है और दोनों को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा. कुछ अन्य टीचरों से भी पूछताछ की जा रही है. वहीं सोहना थाने के एसएचओ को भी सस्पेंड कर दिया गया है. स्कूल कम से कम मंगलवार तक बंद रहेगा. रयान इंटरनेशनल स्कूल मैनेजमेंट ने अभिभावकों को सूचित किया कि जूनियर और नर्सरी सेक्शन अगले आदेश तक बंद रहेंगे. हालांकि छठी से 12वीं तक के क्लास बुधवार को परीक्षा के लिए खुलेंगे. हत्या की जांच कर रही एसआईटी को स्कूल में कई खामियों का पता चला है. जांच टीम की रिपोर्ट के मुताबिक स्कूल में एक-दो नहीं, बल्कि कई स्तर पर लापरवाही बरती जा रही थी. एसआईटी ने अपनी जांच में पाया कि स्कूल में सीसीटीवी लगाने में गड़बड़ी की गई थी. साथ ही स्कूल के अंदर ड्राइवर और कंडक्टरों के लिए अलग से कोई टॉयलेट की व्यवस्था नहीं थी. स्कूल की बाउंड्री भी टूटी हुई थी और टॉयलेट बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं थे.

एसआईटी के सदस्यों ने यह भी बताया कि स्कूल के कर्मचारियों की सही तरीके से पुलिस वेरिफिकेशन नहीं की जाती है. रविवार को नाराज लोगों ने स्कूल के पास के शराब के एक ठेके को आग के हवाले कर दिया. इसके बाद पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे लोगों पर लाठीचार्ज किया. कुछ मीडियाकर्मियों को भी चोटें आई हैं. अभिभावक लगातार स्कूल प्रशासन के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.

मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने कहा है कि इस मामले में कोई नरमी नहीं बरती जाएगी और स्कूल प्रबंधन को जबावदेह ठहराया जाएगा. वहीं हरियाणा के शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने रविवार को कहा कि इस मामले में आरोपपत्र सात दिन में तैयार होगा. बहरहाल, अगर बच्चे के माता-पिता सीबीआई या किसी दूसरी एजेंसी से जांच की मांग करते हैं तो सरकार उनकी मांग स्वीकार कर लेगी.

VIDEO : एसआईटी रिपोर्ट में गुरुग्राम के स्कूल में कई खामियों का जिक्र

बीते शुक्रवार को स्कूल के टॉयलेट में दूसरी कक्षा के प्रद्युम्न ठाकुर की गला काटकर हत्या कर दी गई थी. इस कांड के सिलसिले में बस कंडक्टर अशोक कुमार को गिरफ्तार किया गया है.

नवविाहिता की गला रेतकर हत्या कर… पति ने उठाया ये खौफनाक कदम

Killed the wife, husband raised this creepy step
निधि का फाइल फोटो
एक युवक ने अपनी नवविवाहिता पत्नी की छुरे से गला रेतकर हत्या दी और खुद पटरी पर सिर रखकर ट्रेन से कटकर जान दे दी। गांव वालों का कहना है कि युवक मानसिक रूप से बीमार था।

बिजनौर के गांव खानपुर माधो उर्फ तिमरपुर निवासी अंकित का विवाह 27 जून को चांदपुर थाने के गांव हल्ला नंगली निवासी निधि से हुआ था। अंकित घरवालों के साथ मिलकर खेती करता था। रविवार को अंकित की मां, पिता व भाई एक रिश्तेदारी में आरिष्टी में शामिल होने कोतवाली शहर के गांव सड़ियापुर गए थे। घर पर निधि, अंकित, अंकित की दादी कलावती व निधि के ताऊ कूड़े सिंह थे। दोपहर करीब साढ़े 12 बजे अंकित ने कूड़े सिंह को खाना खिलाया और उनके कमरे में तेज आवाज में टीवी चला दिया। अंकित ने अपने कमरे में जाकर वहां मौजूद निधि की छुरे से गला रेतकर हत्या कर दी और घर से फरार हो गया। अंकित की दादी ने उसे घर से भागते देखा, लेकिन ध्यान नहीं दिया। करीब डेढ़ बजे कूड़े सिंह अपने कमरे से बाहर निकले तो उन्होंने निधि के कमरे से खून बहकर आंगन में आता देखा। वे भागकर कमरे में गए तो वहां निधि का रक्तरंजित शव जमीन पर पड़ा था। पास में ही हत्या में प्रयुक्त छुरा पड़ा था। सूचना पर निधि के घरवाले भी गांव पहुंच गए। उन्होंने निधि के ससुरालवालों पर उसे प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। उनका कहना था कि मायके वाले निधि को उनसे फोन पर बात तक नहीं करने देते थे। निधि ने किसी तरह शुक्रवार को घर फोन कर अपना हाल बताया था। तब उसके ताऊ कूड़े सिंह उसके घर आए थे।

हत्या कर फरार हो गया था पति

जांच करने पहुंची पुलिस

इस बीच करीब तीन बजे बालावाली व चंदक स्टेशन के बीच गांव नाईवाला के पास एक युवक का शव रेलवे ट्रैक पर पड़े होने की सूचना मिली। गांव वाले मौके पर पहुंचे तो शव की शिनाख्त अंकित के रूप में की। अंकित ने पटरी पर सिर रखकर ट्रेन से कटकर आत्महत्या की थी। नवदंपति की मौत से घर में मातम का माहौल है। गांव वालों का कहना है कि अंकित, घरवालों के साथ खेती में हाथ बंटाता था। फसलों में दवाइयों, कीटनाशकों आदि का छिड़काव अंकित ही करता था। करीब एक महीना पहले फसलों में दवा छिड़कते समय उसके दिमाग पर दवाइयों की गर्मी चढ़ गई थी, तब से उसका दिमागी संतुलन ठीक नहीं था। परिजन उसका उपचार करा रहे थे। सीओ सिटी गजेंद्रपाल सिंह व एसओ जसवीर सिंह मौके पर पहुंचे और मृतका के मायके वालों को शांत कर शव कब्जे में लिया। अभी तक मामले की तहरीर नहीं दी गई है।

Warning: Illegal string offset 'update_browscap' in /home/meeruefh/public_html/wp-content/plugins/wp-statistics/includes/classes/statistics.class.php on line 157