Daily Archives: June 28, 2019

साइबर अपराध जागरूकता कार्यशाला में शांति निकेतन विद्यापीठ व सेंट जेवियर्स वर्ल्ड स्कूल के शिक्षकों को इससे बचाव एवं समस्या से निपटने के अनेक तरीकों से अवगत कराया


इंटरनेट और सोशल मीडिया की आभासी दुनिया से आज हर कोई जुड़ा हुआ है। लेकिन इसके कई सारे फायदे होने के साथ ही ढेर सारे खतरे भी है। बहुत बड़ी संख्या में उपयोगकर्ता साइबर क्राइम का शिकार हो रहे है। साइबर क्राइम से बचने के लिए बड़े स्तर पर जागरूक होने की आवश्यकता है। इसी उद्देश्य से शांति निकेतन विद्यापीठ व सेंट जेवियर्स वर्ल्ड स्कूल के शिक्षकों हेतु साइबर क्राइम व सेफ्टी कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें कार्यशाला को संबोधित करते हुए श्री अंकित शर्मा जोनल मैनेजर, श्री कपिल प्रभारी किप्स पब्लिकेशन ने शिक्षकों को डाटा सुरक्षित रखना , बैंक फ्रॉड रोकने के उपाय, ईमेल भेजने वाले का पता लगाना ,फर्जी फेसबुक आईडी बनाने वाले को ट्रेस करना, असली-नकली वेबसाइट में फर्क ,ऑनलाइन सोशल नेटवर्किंग एवं ई-मेल कम्युनिकेशन के खतरे व सावधानियां मोबाइल यूजर्स के खतरे और सावधानियां वाईफाई प्रयोग के दौरान डाटा हैक होने के खतरे आदि के प्रति जागरूक किया।कार्यशाला में बतौर मुख्य वक्ता ने शिक्षकों को इंटरनेट, सोशल मीडिया, सोशल एप्लीकेशन पर सुरक्षित रहने को जागरूक किया। उन्होंने बताया कि किस तरह सोशल मीडिया पर स्टेट्स और फोटो अपडेट के जरिए साइबर अपराधी यूजर्स को नुकसान पहुंचाते हैं। साथ ही इंटरनेट का इस्तेमाल करते समय कैसे सुरक्षित रहें इसकी जानकारी भी दी।

यह भी बताया कि कोई भी वीडियो, फोटो या पोस्ट सोशल एप और सोशल साइट पर साझा करने से पहले इसकी सत्यता जरूर जांचें। कई लोगों तक कोई गलत सूचना पहुंचाने से बचें।

साइबर सुरक्षा के निम्न टिप्स दिए-

– सार्वजनिक जगहों पर इंटरनेट इस्तेमाल करते समय बरतें एहतियात

– आईडी और एकाउंट हमेशा करें लॉगआउट

– सत्यता प्रमाण के बगैर कोई पोस्ट ना करें साझा

– अनजान व्यक्ति को ना दें व्यक्तिगत जानकारी

– सर्च हिस्ट्री हमेशा करें डिलीट

– साइबर क्राइम की तुरंत करें शिकायत

पासवर्ड को इस तरह रखें सुरक्षित :

– पासवर्ड किसी को ना बताएं

– हमेशा आठ अक्षर से ज्यादा का पासवर्ड बनाएं

– नंबर और अक्षरों को मिलाकर रखें पासवर्ड

– स्पेशल करेक्टर का करें इस्तेमाल

– आसान पासवर्ड ना बनाएं

– सभी एकाउंट के लिए ना करें एक पासवर्ड

– रिमेंबर के विकल्प को हमेशा कहें ना

निदेशक डॉ विशाल जैन ,प्रधानाचार्या विभा गुप्ता एवं प्रधानाचार्या निधि मलिक ने आभार व्यक्त किया।