शांति निकेतन विद्यापीठ के प्रतिभावान विद्यार्थी विनायक बहादुर का राष्ट्रीय बाल शक्ति पुरस्कार के लिए चयन


शांति निकेतन विद्यापीठ में कक्षा आठवीं के छात्र विनायक बहादुर को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार 2020 के लिए चयनित कर लिया गया है ।बैडमिंटन खिलाड़ी विनायक बहादुर मूक बधिर है ,जो अनेक राष्ट्रीय स्पर्धाओं में पदक जीतकर अनेक उपलब्धियां हासिल कर चुका है ।भारत सरकार के महिला व बाल विकास मंत्रालय की ओर से इसकी सूचना देते हुए पत्र भेजा गया है ।22 जनवरी 2020 को राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोंविद,विनायक को राष्ट्रीय बाल शक्ति सम्मान से पुरस्कृत कर सम्मानित करेंगे । विनायक को गणतंत्र दिवस की परेड में भी बुलाया गया है ।विनायक को एक लाख रुपए नगद , एक टेबलेट, प्रमाण पत्र व प्रशस्ति पत्र मिलेगा । विनायक बहादुर ने बैडमिंटन में राष्ट्रीय स्तर के चार स्वर्ण पदक, तीन रजत पदक ,एक कांस्य पदक व राज्य स्तर के 10 स्वर्ण पदक ,नौ रजत पदक ,तीन कांस्य पदक प्राप्त किए हैं। विनायक बहादुर के पिता श्री दीपक बहादुर स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया कैंट में कार्यरत हैं। जिन्हें 2018 में उपराष्ट्रपति द्वारा दिया गया था। विनायक के पिता व माता भी मूक बधिर हैं । विनायक बहादुर के माता-पिता व स्वयं मूक बधिर होने के उपरांत भी इस ने अपनी हिम्मत और हौसले से खेल की चुनौतियों में आगे और आगे बढ़ने का काम किया तथा अपनी विकलांगता को परास्त करके एक उत्तम खिलाड़ी बना है।
विनायक बहादुर को राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर 17वें बिहार विकलांग खेल अवार्ड समारोह 2017 पटना बिहार में आउटस्टैंडिंग एबिलिटी इन फील्ड इन स्पोटस के लिए बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री श्री जीतन राम मांझी द्वारा अवार्ड राष्ट्रीय अवार्ड प्रदान किया गया।
विनायक बहुत परिश्रमी हैऔर मेहनत से अच्छे अंको से परीक्षाओं में उत्तीर्ण होता है ।
विनायक बहादुर ने अंतरराष्ट्रीय ,राष्ट्रीय स्तर तथा राज्य स्तर की चित्रकला प्रतियोगिता अंतर्राष्ट्रीय तथा राज्य स्तर की क्विज और लेखन प्रतियोगिता , अंतर्राष्ट्रीय निबंध प्रतियोगिता ,क्रिसमिस क्राफ्ट मेकिंग प्रतियोगिता ,म्यूजिकल चेयर प्रतियोगिता , राज्य स्तर की शतरंज प्रतियोगिता , राष्ट्रीय स्तर की बैडमिंटन प्रतियोगिता तथा राज्य स्तर की बैडमिंटन प्रतियोगिता में सफलता प्राप्त की है तथा सम्मान पत्र व अवार्ड जीते हैं। इसके साथ ही विनायक अच्छी तैराकी भी करता है ।
विनायक बहादुर अनेक विधाओं में पारंगत प्रतिभावान खिलाड़ी है तथा अन्य बच्चों के लिए भी प्रेरणा का स्रोत है।
शांति निकेतन विद्यापीठ के निदेशक डॉ विशाल जैन जी ने संबोधित करते हुए कहा कि विनायक ने यह सफलता अर्जित कर मेरठ का नाम रोशन किया है एवं प्रधानाचार्या श्रीमती विभा गुप्ता जी ने विनायक बहादुर को बधाई दी एवं उस का उत्साहवर्धन किया ।

Leave a Reply