‘पीएनबी से बोल रहा हूं, मुझे एटीएम कार्ड नंबर बताइए’ –

मेरठ : मैं पंजाब नेशनल बैंक से मैनेजर बोल रहा हूं। आपके बैंक खाते में कुछ तकनीकी खराबी आ गई है। हमें उसे सही करना है। जल्दी अपना खाता नम्बर, एटीएम कार्ड का 16 डिजिट का नम्बर व सीवीसी एवं ओटीपी नम्बर बताओ। वसीम के पूरा डिटेल नोट कराने के बाद तुरंत फोन काट दिया। इसके कुछ देर बाद ही उनके बैंक खाते से 19 हजार निकाले जाने का मैसेज आ गया।
मकान नम्बर-338 पूर्वा अहमद नगर जली कोठी निवासी मोहम्मद वसीम पुत्र हाजी नजीर अहमद के साथ यह ठगी 22 दिसंबर को हुई। बकौल वसीम 22 दिसंबर को उनके मोबाइल नम्बर-9756666881 पर दोपहर करीब 1:49 बजे 8678826060 नंबर से कॉल आई थी। कॉलर ने स्वयं को पीएनबी, जिमखाना मैदान शाखा का मैनेजर बताया। साथ ही खाते में तकनीकी खराबी आने की बात कहकर सही कराने तथा खाता नम्बर समेत एटीएम कार्ड नम्बर आदि की डिटेल मांगी। इसके कुछ देर बाद ही उसके मोबाइल पर दो मैसेज आए, जिनमें 19,983 रुपये निकाला जाना दर्शाया गया। इसके बाद वसीम के पैरों तले की जमीन निकल गई। उन्होंने तुरंत इसकी जानकारी बैंक प्रबंधक को दी। अपना बैंक एकाउंट ब्लाक कराया। इस मामले में बैंक प्रबंधक ने कार्रवाई का आश्वासन दिया। एसएसपी को भी सूचना दी। मामले में अभी कोई कार्रवाई न होने पर वसीम ने अधिवक्ता भाई मो. सलीम के साथ मंगलवार को डीएम से शिकायत की। बैंड कारोबारी व पीड़ित ने डीएम से ठगी के मामले की रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की मांग की। वहीं, जिस नम्बर से वसीम को फोन किया गया वह मंगलवार को भी स्विच ऑफ रहा। सतर्कता बरतें, सावधान रहें
– कॉल आने पर किसी को भी पिन नंबर या एडीएम कार्ड नंबर की जानकारी न दें।
– बैंक शाखा के संपर्क में रहें। बैंक का कोई आपसे पासवर्ड या पिन नंबर नहीं पूछता।
– समय-समय पर खाते की जांच करते रहें।
– एटीएम का पिन नंबर कार्ड पर न लिखें और किसी को भी न बताएं।
– कार्ड प्रयोग करते समय सतर्क रहिए।
– कुछ समय बाद पिन नंबर बदलते रहें।
– ठगी हो जाने पर तुरंत एकांउट होल्ड कराएं।
इनका कहना है..
बैंक की ओर से कभी भी फोन पर अपने ग्राहक से कोई जानकारी नहीं मांगी जाती। इसलिए ऐसी कॉल आने पर किसी भी प्रकार की जानकारी न दें और बैंक से संपर्क करें।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply


Warning: Illegal string offset 'update_browscap' in /home/meeruefh/public_html/wp-content/plugins/wp-statistics/includes/classes/statistics.class.php on line 157